छत्तीसगढ़ / जशपुर में सर्पदंश से भाई-बहन की मौत; रायगढ़ में नानी-नाती को डसा तो परिवार बोला- लाश सौंप दें, जिंदा कराएंगे



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • जशपुर के पत्थलगांव में रात को सोते समय सांप ने काटा, पहले बहन, फिर उपचार के दौरान भाई ने तोड़ा दम
  • रायगढ़ में अंधविश्वास के चलते शवों को कैथा गांव ले जाना चाहता था परिवार, कलेक्टर के समझाने पर माने

Dainik Bhaskar

Sep 14, 2019, 04:07 PM IST

रायगढ़/जशपुर. छत्तीसगढ़ के रायगढ़ और जशपुर में सांप के डसने से तीन बच्चों समेत 4 लोगों की मौत हो गई। जशपुर में शुक्रवार देर रात सांप ने भाई-बहन को डस लिया। घटना में पहले बहन और फिर उपचार के दौरान भाई ने दम ताेड़ दिया। वहीं दूसरी ओर रायगढ़ में एक रात पहले ही नानी और नातिन की सांप के डसने से मौत हो गई। मौत के बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम कराना चाहा तो परिजनों ने मना कर दिया। परिवार के लोग दोनों शवों को जिंदा करने के लिए कैथा गांव ले जाना चाहते थे। हालांकि बाद में कलेक्टर के समझाने पर पोस्टमार्टम के लिए तैयार हो गए। 

पेट दर्द और सीने में तकलीफ पर जब तक अस्पताल लेकर पहुंचे जहर शरीर में फैला

  1. जानकारी के मुताबिक, जशपुर के पत्थलगांव थाना क्षेत्र के इंजको निवासी उदेराम चौहान का पूरा परिवार शुक्रवार रात खाना खाने के बाद सोने चला गया। वहीं जमीन पर अंजनि (3) और उसका भाई शोमस (16) सोये थे। देर रात दोनों को सांप ने डस लिया। पेट दर्द और सीने में तकलीफ होने लगी तो परिजन दोनों को लेकर अस्पताल पहुंचे। तब तक शरीर में जहर फैलने के कारण अंजनि की मौत हो चुकी थी। जबकि शोमस ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। अांकड़ों के मुताबिक जनवरी 2019 से अबतक 90 लोग सर्पदंश का शिकार हुए हैं। इनमें से 7 लोगों की मौत हो चुकी है। 

  2. बिना पोस्टमार्टम कराए कैथा गांव ले जाना चाहते थे शव

    रायगढ़ के खरसिया थाना क्षेत्र के ठाकुर दिया गांव निवासी योगेश दास महंत (13) पिता संजू दास और उसकी नानी श्याम बाई महंत (70) को गुरुवार रात सांप ने डस लिया। दोनों को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। परिवार वाले शव को बाराद्वार के पास कैथा गांव ले जाना चाह रहे थे। दरअसल लोगों को ऐसा अंधविश्वास है कि सांप डसने वाले व्यक्ति को वहां पहुंचाने पर उसका जहर उतर जाता है और वह फिर से जीवित हो जाता है। परिवार वालों ने पोस्टमार्टम से इंकार कर दिया और वे सीधे कलेक्टोरेट पहुंच गए। हालांकि बाद में अधिकारियों के समझाने पर मान गए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना