निकाय चुनाव / पार्षद चुनाव का फॉर्म लेने नहीं थे पैसे, लोगों ने जुटाए 3 हजार के चिल्लर और कहा- आप चुनाव लड़ें

जशपुर के जिला निर्वाचन कार्यालय में सिक्के लेकर पहुंचे सत्येंद्र जशपुर के जिला निर्वाचन कार्यालय में सिक्के लेकर पहुंचे सत्येंद्र
X
जशपुर के जिला निर्वाचन कार्यालय में सिक्के लेकर पहुंचे सत्येंद्रजशपुर के जिला निर्वाचन कार्यालय में सिक्के लेकर पहुंचे सत्येंद्र

  • जशपुर के वॉर्ड क्रमांक 2 से चुनाव लड़ने की तैयारी में समाज सेवक सत्येंद्र
  • 2600 रुपए के सिक्के और 10 रुपए के नोट लेकर पहुंचे फॉर्म खरीदने

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 02:56 PM IST

जशपुर. छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में निकाय चुनाव के एक दावेदार के पास नामांकन फॉर्म खरीदने के लिए पैसे नहीं थे तो लोगों ने आगे आकर आर्थिक की। दावेदार को स्थानीय लोगों ने 3000 हजार रुपए के चिल्लर जुटाकर दिए। मंगलवार को वह झोले में लेकर पैसे कलेक्टरेट ऑफिस पहुंचा और नामांकन फॉर्म जमा किया। सत्येंद्र पाठक नाम के यह दावेदार जशपुर के वाॅर्ड क्रमांक 2 से पार्षद पर चुनाव लड़ने जा रहे हैं। सत्येंद्र ने बताया कि वाॅर्ड में छोटी दुकान चलाते हैं। दूध, ब्रेड वगैरह बेचकर गुजारा करते हैं। क्षेत्र के बाजार समिति के छोटे दुकानदार और ठेले वालों ने अपने पास से दो-पांच, 10 रुपए देकर यह राशि जुटाई। 



कई सालों से करते आ रहे हैं समाज सेवा 
सत्येंद्र ने बताया कि- मैं इस क्षेत्र में कई सालों से रक्तदान शिविर, लावारिस मवेशियों की मदद, साफ-सफाई जैसे प्रयास करता आ रहा हूं। वाॅर्ड के लोगों ने बैठक कर इस बार मुझे पार्षद पद का चुनाव लड़ने को कहा। लोगों का कहना था कि क्षेत्र में बहुत से काम बिना किसी पद में रहकर मैंने किए तो पार्षद का पद मिलने से लोगों के काम आसानी से होंगे। लोगों के आग्रह पर चुनावी लड़ने का मन बनाया।  

सिक्के लेकर पहुंची पूजा शर्मा

गरीब बस्ती की महिला भी सिक्के लेकर पहुंची 
छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में ऐसा ही एक और मामला सामने आया। निगम क्षेत्र वार्ड क्रमांक 3 की सामान्य सीट से पार्षद पद की दावेदारी पूजा शर्मा कर रही हैं। फॉर्म खरीदने यह भी अपने साथ ढाई हजार के सिक्के लेकर पहुँचीं। सिक्कों के बारे में पूजा ने बताया कि- मैं अटल आवास गरीब बस्ती में रहती है, फॉर्म के पैसे मेरे पास नहीं थे। मोहल्ले के लोगों ने 1,2,5 और 10 रुपये का सिक्का देकर मुझे सहयोग किया है। पूजा ने बताया कि चुनाव तो बहुत हुए मगर बस्ती के लोगों के लिए किसी ने अच्छा काम नहीं किया अब बदलाव लाने का प्रयास वह इस चुनाव के जरिए करना चाहती हैं।
 

DBApp
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना