--Advertisement--

निगम में कागजों पर दौड़ रही गाड़ियां

Raigarh News - गड़बड़ी कर हर माह हजारों रुपए की बंदरबांट कर रहे हैं अफसर भास्कर न्यूज | रायगढ़ निगम के वाहनों में डीजल की खपत...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 02:55 AM IST
Raigarh News - cartons running on paper in the corporation
गड़बड़ी कर हर माह हजारों रुपए की बंदरबांट कर रहे हैं अफसर

भास्कर न्यूज | रायगढ़

निगम के वाहनों में डीजल की खपत लगातार बढ़ रही है जबकि वाहनों का उपयोग इतना नहीं है। वाहन शाखा के हेल्पर, ड्राइवर और प्रभारी तक सभी खपत अधिक बताकर अपनी जेबें भर रहे हैं। इस का खुलासा भास्कर की पड़ताल में हुआ।

निगम के वाहन प्रभारी व निगम के उपायुक्त पंकज मित्तल बताते हैं कि रोजाना औसतन 500 से 600 लीटर डीजल की खपत होती है। मतलब माह में 15 से 18 हजार लीटर डीजल, 70 रुपए प्रति लीटर के हिसाब जिसकी कीमत 10.50 से 12.60 लाख रुपए होनी चाहिए, लेकिन निगम ने डीजल के लिए तीन महीने में 13,15 और 17 लाख रुपए तक का भुगतान किया है। अगस्त में डीजल की खपत 18 हजार लीटर बताई गई है। इसके लिए कुल 12.93 लाख रुपए का भुगतान घड़ी चौक स्थित ट्राइबल अपेक्स पेट्रोल पंप को किया गया है। बारिश की वजह से निगम की गाडिय़ां सामान्य दिनों की तुलना में कम ही चली थीं। इस तरह खपत ज्यादा बताकर हिसाब में गड़बड़ी कर हर माह हजारों रुपए की बंदरबांट हो रही है।

भास्कर एक्सपोज
निगम के वाहन और उनके माइलेज

मैंने अधिकतम 13 लाख ही किया भुगतान

निगम के एक पूर्व वाहन प्रभारी ने बताया कि निगम में प्रतिमाह डीजल भुगतान 10 लाख से ऊपर ही होता है। उन्होंने अधिकतम 13 लाख रुपए तक का भुगतान किया था। खपत की जानकारी तो नहीं है, लेकिन कुछ समय से डीजल के रेट बढ़े हैं, इसलिए यह संभव है।

04अफसरों के वाहन- 12-18 ली./किमी.

17ट्रैक्टर- 4 से 5 ली./किमी.

हर महीने 3 हजार लीटर डीजल की बढ़ोतरी

जून- बारिश से पहले वाहनों का इस्तेमाल अधिक हुआ। कुल खपत लगभग 18 हजार डीजल के लिए 75.43 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से 12 लाख 93 हजार रुपए भुगतान किया है।

13 ऑटो- 30 से 35 ली./किमी.

जुलाई- 31 में 18 दिन बारिश हुई, निगम में वाहनों का इस्तेमाल कम हुआ, लेकिन जुलाई में 21 हजार लीटर डीजल के लिए 74.80 रुपए के हिसाब से 15 लाख 78 हजार रुपए भुगतान हुआ।

02 डंपर- 4 से 5 ली./किमी.

01 लोडर- 3 से 4 ली./घंटा

अगस्त- महीने में डीजल का खर्च और बढ़ गया, निगम ने करीब 24 हजार लीटर डीजल इस्तेमाल किया और ट्राइबल अपेक्स पेट्रोल पंप को 16 लाख 48 हजार रुपए का भुगतान किया।

07 जेसीबी, 1 से 1.5 ली./घंटा.

3 माह में 49 लाख रुपए वाहन शाखा में खर्च

निगम आयुक्त एक तरफ फंड नहीं होने की बात कह रहे हैं और दूसरी तरफ तीन माह में 49 लाख रुपए वाहनों की मरम्मत और डीजल पर खर्च कर दिए। हर माह 15 से 18 लाख रुपए निगम वाहन शाखा पर खर्च करती है। वित्तीय वर्ष के बजट में डेढ़ करोड़ ही निर्धारित है।

01 पिकअप- 14 ली./किमी.

सीधी बात

मैं इतना हिसाब कैसे रखूंगा

पंकज मित्तल,
उपायुक्त नगर निगम रायगढ़

निगम के पास कितने वाहन हैं, और इनमें रोज कितना डीजल खर्च होता है?

यह जानकारी अभी दे पाना संभव नहीं है, आप सोमवार को आइए।

आप प्रभारी है वाहन की संख्या तो आपको याद होंगे, डीजल रोज डला रहे पता होना चाहिए?

मैं इतना हिसाब कैसे रखूंगा, इसके अलावा भी निगम के ढेर सारे काम हैं मेरे पास।

आपको रखना चाहिए, आपकी जिम्मेदारी है यह, गाड़ियों का लॉगबुक तो चेक करते हैं?

यादव यहां आओ, हमारे यहां कितनी गाडिय़ां हैं, और एक दिन में हम कितना डीजल बांटते हैं।

साहब- 13 ट्रैक्टर, दो डंपर, 13 ऑटो, 1 लोडर, 7 जेसीबी, ट्रैक्टर को हम सुबह 9 और जरूरत पढ़ने और देते हैं।

4. वाहनों में डीजल की खपत बढ़ रही है, आप रोकने के लिए क्या उपाय कर रहे हैं?

मैंने बताया न आपको की पहले 600 लीटर प्रतिदिन था अब हम 500 लीटर पर ले लाए।

X
Raigarh News - cartons running on paper in the corporation
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..