--Advertisement--

एप कर्मचारी बनकर मोबाइल के कैलकुलेटर में जुड़वाए अंक, ओटीपी लेकर उड़ाए 78 हजार

Raigarh News - सारंगढ़ के दानसरा में 10 सालों से ग्राहक सेवा केंद्र चलाने वाले युवक के खाते से ठग ने 78 हजार रुपए पार कर दिए। ठगी का ऐसा...

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 03:06 AM IST
Raigarh News - chhattisgarh news 78 of the number of people involved in the mobile calculator by taking an otp
सारंगढ़ के दानसरा में 10 सालों से ग्राहक सेवा केंद्र चलाने वाले युवक के खाते से ठग ने 78 हजार रुपए पार कर दिए। ठगी का ऐसा तरीका पहली बार सामने आया है। ठग ने पे नियरबाई एप का कर्मचारी बनकर युवक को फोन किया था। उसने युवक को मोबाइल पर ही कैलकुलेटर चालू करके उसपर कुछ अंक जोड़ने के लिए कहा, फिर कहा- उसमें ओटीपी जोड़ा और फिर कुल जमा अँंक से ओटीपी पता कर ठगी की।

हेमराज मेहर 33 साल दानसरा में ग्राहक सेवा केंद्र चलाता है। हेमराज पे नियरबाई कंपनी से आईडी लेकर सेंटर में आने वाले लोगों की रुपए निकालने में मदद करता है। युवक हमेशा लोगों को मोबाइल में बैंक संबंधी जानकारी शेयर नहीं करने की सलाह देता है। गुरुवार को युवक के पास एक अज्ञात नंबर से फोन आया। आरोपी ने खुद को पे नियरबाई एप का कर्मचारी बताया और उसके किसी प्रकार की दिक्कत हो तो बताने के लिए कहा।

युवक ने नंबर याद नहीं होने की बात कही। इसपर ठग ने युवक को मोबाइल पर कैलकुलेटर चालू करने को कहा। इसके बाद कुछ अंक जुड़वाए। इसके तुरंत बाद युवक के मोबाइल पर एक मैसेज आया। इसपर युवक को फिर से एक नंबर को इस मैसेज में दिए गए नंबर के साथ जोड़ने के लिए कहा गया। दोनों नंबर को जोड़कर जैसे ही युवक ने ठग को कंपलेन नंबर बताया। युवक के खाते से 78 हजार रुपए खाली हो गए। घटना के बाद युवक ने मामले में सारंगढ़ थाने पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज कराई। इसपर सारंगढ़ पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

मामले की जांच करने ठाणे जाएगी सारंगढ़ पुलिस-युवक के खाते से रुपए ठाणे मुंबई में सफल हमब्रोम नाम के खाते में जमा हुए हैं। पुलिस मामले में जानकारी निकालने के बाद अब ठाणे जाने की तैयारी कर रही है। यहां कोई लिंक मिला तो पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

 

सिर्फ वही नकारात्मक खबर जो अापको जानना जरूरी है।

पहली बार में निकले 60 हजार तो रोकने की कोशिश की मगर सफल नहीं

नंबर बताने के बाद पहली बार में ही 60 हजार रुपए निकाल लिए गए। इसके बाद युवक को अपनी गलती समझ आई और उसने बचे हुए रुपयों को बचाने के लिए पे नियरबाई कस्टमर केयर में फोन कर अकाउंट को होल्ड करने के लिए कहा। मगर कंपनी ने मदद करने की बजाय उसे ही कुछ करने के लिए कहा। युवक पासवर्ड रिसेट करना चाह रहा था। मगर उसका अकाउंट हैंग हो गया था। अकाउंट में लॉग इन कर रखा था। कुछ देर बाद बचे हुए रुपए भी निकाल लिए गए। हेमराज एसबीआई आधार कार्ड से रुपए निकालने की सेवाएं देता था। मगर कुछ दिनों से इस सेवा को बंद किया गया है। इसी कारण ग्राहक सेवा केंद्र वाले पे नियरबाई एप के जरिए रुपए ट्रांजेक्शन का काम कर रहे हैं। पे नियर बाई एप में जिले भर से शिकायत आ रही है।

इस तरह से की ठगी

कम्प्लेन नंबर जानने के लिए ठग ने युवक को मोबाइल में कैलकुलेटर खोलने को कहा। कैलकुलेटर में पहले 1999 से 999 को जोड़ने के लिए कहा गया। इन दोनों अंकों को जोड़ने के बाद युवक के मोबाइल में एक मैसेज (ओटीपी) आया। ठग ने मैसेज में आए नंबर को 999 से जोड़ने के लिए कहा। इसके बाद दोनों अंकों के जोड़ से आए नंबर को पूछकर खाते से रुपए निकाल लिए।

पे नियर बाई एप से ठगी की गई है। ठगी का तरीका एकदम अलग है। आरोपी ने कैलकुलेटर से नंबर जुड़वाकर पहले ओटीपी पता किया फिर खाते से पुरे रुपए निकाल लिए। जी एस दुबे, टीआई सारंगढ़

X
Raigarh News - chhattisgarh news 78 of the number of people involved in the mobile calculator by taking an otp
Astrology

Recommended

Click to listen..