धैर्य, एकता और भाईचारे की परीक्षा में शहर पास, गले मिल मनाई खुशियां, कहीं नहीं दिखा तनाव

Raigarh News - हेमू कालानी चौैक पर तैनात पुलिस का जवान चक्रधर नगर- सुबह 11:45 बजे के करीब अयोध्या पर फैसला आने के बाद शहर के...

Nov 10, 2019, 07:41 AM IST
हेमू कालानी चौैक पर तैनात पुलिस का जवान

चक्रधर नगर- सुबह 11:45 बजे के करीब अयोध्या पर फैसला आने के बाद शहर के चक्रधरनगर चौक, हेमू कालानी चौक, बेलादुला, बोईरदादर इलाकों का भास्कर की टीम ने जायजा लिया। इन इलाकों में करीब 10 ज्यादा रिहायशी कालोनियां और कई बड़े प्रतिष्ठान के साथ छोड़ी बड़ी दुकानें हैं। इन इलाकों में जन जीवन आम दिनों जैसा ही रहा। महिलाएं अपने दैनिक कार्यों के लिए बाहर भी निकलीं। बच्चे स्कूल से मस्ती के साथ घर लौटते हुए नजर आए। अभिभावक भी उन्हें लेने के लिए घरों से बेखौफ होकर निकले। शहर इन इलाकों में अयोध्या फैसले को लेकर किसी भी तरह का भय लोगों में नहीं था। लोगों की दिनचर्या रोज की तरह ही दिखाई दी, हालांकि आम दिनों की अपेक्षा सड़कों पर भीड़भाड़ कम नजर आई। लोग घर बैठकर ही टीवी पर देश-दुनिया की खबर लेते रहे।

शहर के चार क्षेत्रों से लाइव रिपोर्ट -
सबसे संवेदनशील इलाका लेकिन दिखा गजब का सौहार्द्र

चांदनी चौक पर सामान्य चहल-पहल दिखी

चांदनी चौक- दोपहर 1:15 के करीब केवड़ाबाड़ी बस स्टैड, इंदिरा नगर, चांदनी चौक, पैलेस रोड, रेलवे स्टेशन चौक, सत्तीगुड़ी का नजारा लेने पर माहौल शांति पूर्ण नजर आया। इस क्षेत्र में दुकानें खुली थीं, लोग चाय की दुकानों पर बैठ कर टीवी और सोशल मीडिया के माध्यम से अयोध्या फैसले का अपडेट लेते नजर आए। चांदनी चौक पर ईद-ए-मिलादुन्नबी पर कार्यक्रम होता रहा। हिंदू-मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग आपस में एक दूसरे का हाल चाल लेने के साथ ही कार्यक्रम में शरीक होते दिखे। यहां कौमी एकता दिखी। सड़कों पर चहल पहल थी। होटल, परचून दुकान, दवा दुकानों पर भीड़भाड़ रही। लोग अपने जरूरत की खरीदारी भी करते दिखे। बस स्टैंड पर भीड़ रोज की तरह ही नजर आई, यहां से सांरगढ़, पत्थलगांव, खरसिया आदि की आनेे लोग और व्यापारी खूब दिखे।

जूटमिल इलाके की सड़कों पर दोपहर को कम दिखे वाहन

सारंगढ़-चंद्रपुर की तरफ से शहर में आते वाहन।

जूटमिल क्षेत्र सुबह 11 बजे. से 3 बजे तक हमने छातामुड़ा चौक, ट्रांसपोर्टर नगर, कबीर चौक, जूटमिल, ओडिशा रोड, मिट्‌ठूमुड़ा, लेबर कॉलोनी, बाजीरावपारा, जेलपारा समेत पूरे इलाके का जायजा लिया। यहां पुलिस की टीम गश्त करती दिखी। सड़कों पर आवाजाही कम रही, छुट्‌टी का दिन होने के कारण सरकारी दफ्तर बंद थे। दुकानें खुली रहीं, स्कूल, कोचिंग सेंटर में बच्चे आए-गए। कहीं भी लोगों में डर या घबराहट नहीं दिखी। लोगों ने समझदारी बरती और किसी भी तरह का सार्वजनिक प्रदर्शन या जश्न न हो इसका भी पुलिस ने पूरा ध्यान रखा। छातामुड़ा और कबीर चौक पर एक एएसआई और तीन-तीन आरक्षकों की टुकड़ी तैनात दिखी। इस बीच दो अलग-अलग चार पहिया वाहनों में पुलिस की एक टुकड़ी पेट्रोलिंग कर रही थी। यहां संदिग्धों को भगाया गया।

ढिमरापुर इलाके में स्कूल बसें गुजरीं, हाइवे भी शांत

ओपी जिंदल मार्ग पर कम दिखी भीड़

ढिमरापुर चौक इलाका, 1 बजे. दो-तीन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई थी। 112 और कोतवाली की पेट्रोलिंग टीम कोतरा रोड, उर्दना, लक्ष्मीपुर, जिंदल रोड के इलाकों में पेट्रोलिंग कर रही थी। इन इलाकों में चैतन्य नगर, आशीर्वादपुरम्, पार्क एवेन्यू, फ्रेंड्स कॉलोनी, गजाननपुरम, रुकमणि विहार समेत 10 से ज्यादा कालोनी और सैकड़ों मकान हैं। सड़कों के किनारे बड़े शोरूम और होटल हैं लेकिन इस इलाके में माहौल शांत रहता है। शहर में बाहर से आए कामकाजी लोग भी सामान्य तरीसे से शहर आए। ढिमरापुर चौक छोड़ किसी भी इलाके में पुलिसकर्मी तैनात नहीं थे। बड़े निजी स्कूलों के साथ ही सरकारी स्कूलों में भी छुट्‌टी नहीं थी। बच्चे आते जाते दिखे। ढिमरापुर चौक पर हमने देर तक जायजा लिया। वाहन शहर से बाहर भी गए और बाहरी वाहन भी आए, बसें चलीं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना