खरसिया से कारीछापर तक 44 किलोमीटर लंबी लाइन पर पहली बार चली मालगाड़ी, यात्री ट्रेनें भी चलेंगी

Raigarh News - रायगढ़ | शनिवार को ईस्ट रेल कॉरीडोर परियोजना के प्रथम चरण में खरसिया से कारीछापर के बीच मालगाड़ी की पहली रैक भेजी गई।...

Oct 13, 2019, 07:25 AM IST
रायगढ़ | शनिवार को ईस्ट रेल कॉरीडोर परियोजना के प्रथम चरण में खरसिया से कारीछापर के बीच मालगाड़ी की पहली रैक भेजी गई। खरसिया, गारे पेलमा सहित धरमजयगढ़ तक 102 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण किया जा रहा। इस परियोजना के अंतर्गत खरसिया से कारीछापर तक 44 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण कार्य पूरा करके मालगाड़ी चलाई गई।

58 वैगन की मालगाड़ी गुरुवार सुबह 7.05 बजे खरसिया स्टेशन से कारीछापर के लिए रवाना की गई। दो घंटे बाद 9 बजे कारीछापर रेलवे स्टेशन पहुंची। वापसी में इस मालगाड़ी में कोयला लोड कर दोपहर 1.40 बजे कारीछापर स्टेशन से कुम्हारी स्टेशन के लिए रवाना किया गया। दोपहर 3.35 बजे खरसिया स्टेशन पहुंची और आगे गंतव्य के लिए इसे रवाना किया गया। पहली रैक मड़वा पावर प्लांट और दूसरी रैक एनटीपीसी को भेजी गई। फिलहाल हर रोज 8 हजार टन कोयले का ट्रांसपोर्टिंग किया जाएगा।

ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के अंतर्गत प्रथम चरण में खरसियां-घरघोड़ा-कारीछापर- धरमजयगढ़ सहित घरघोड़ा से डोंगा महुआ, गारे पेल तक 102 किलोमीटर नई रेल लाइन का निर्माण किया जा रहा है। इस परियोजना के प्रथम चरण की वर्तमान अनुमानित लागत लगभग 3055 करोड़ है। इस परियोजना की कुल लागत का एसईसीएल 64 फीसदी, इरकान 26 फीसदी और छत्तीसगढ़ सरकार 10 प्रतिशत की राशि संयुक्त रूप से साझा कर रही है । ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के दूसरे चरण के अंतर्गत धरमजयगढ़ से उरगा तक 62.5 किलोमीटर रेल लाइन का निर्माण किया जाएगा। धरमजयगढ़, खरसिया, और घरघोड़ा ब्लॉक पूरी तरह से रेल मार्ग से जुड़ जाएगा। रेल कॉरीडोर को माल लदान के साथ यात्रियों की सुविधाओं के लिए भी शुरू किया जाएगा।





ईस्ट कॉरिडोर परियोजना दो चरणों में पूरा किया जा रहा है। फेस-1 में खरसिया-धरमजयगढ़ और फेस 2 में धरमजयगढ़-कोरबा के बीच नई रेल लाइन बिछाई जा रही है। दोनों ही परियोजनाओं में जिले के दर्जनों गांव आ रहे हैं, जो सीधे रेलमार्ग से जुड़ेंगे।

ये 9 स्टेशन बन रहे, मिलेगा रेल सुविधा

खरसिया से धरमजयगढ़ तक गुरदा, छाल, घरघोड़ा, कारीछापर, कुड़ुमकेला, धरमजयगढ़, भालूमाड़ा एवं गारे पेलमा में 9 रेलवे स्टेशन बनाए जा रहे हैं। मालगाड़ी के सफल संचालन के बाद इस लाइन में यात्रियों के लिए ट्रेन चलाई जाएगी। रेलवे पीआरओ के अनुसार सीआरएस इंस्पेक्शन के बाद इस लाइन पर यात्री ट्रेनों का परिचालन भी शुरू किया जाएगा। सीआरएस इंस्पेक्शन के लिए अप्लाई किया जा चुका है। इंस्पेक्शन में क्लियरेंस मिलने के बाद यात्री ट्रेनें शुरू होंगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना