14 चुनावों में दो बार ही कांटे की टक्कर, फिर कड़ा मुकाबला

Raigad News - लोकसभा चुनाव में रायगढ़ सीट के लिए 14 बार चुनाव हुए हैं। इनमें दो बार ही मुकाबला टक्कर का रहा। 2019 का चुनाव भी टक्कर का...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:21 AM IST
Raigarh News - chhattisgarh news in the 14 elections only forked the fork then the tough fight
लोकसभा चुनाव में रायगढ़ सीट के लिए 14 बार चुनाव हुए हैं। इनमें दो बार ही मुकाबला टक्कर का रहा। 2019 का चुनाव भी टक्कर का है। इस बार बीजेपी और कांग्रेस के लोग यहां कांटे की टक्कर बता रहे हैं। जीत का सबसे कम अंतर 1998 और 1999 में रहा। जब 1998 में कांग्रेस के प्रत्याशी पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने बीजेपी के नंदकुमार साय को मात्र 4200 वोटों से हराया था। इसके बाद एक साल बाद हुए चुनाव में पहली बार भाजपा ने विष्णुदेव साय को टिकट दी। साय ने कांग्रेस की पुष्पा देवी सिंह को मात्र 5800 वोटों से हराया और पहली बार सांसद बने। इसके बाद वे लगातार तीन बार इस सीट से चुनाव जीते। हर बार मुकाबला लगभग बीजेपी के पक्ष में एकतरफा रहा। इस बार मुकाबला कांग्रेस के लालजीत सिंह राठिया और भाजपा की गोमती साय के बीच है। रायगढ़-जशपुर जिले की 8 विधानसभा में दोनों पर 4-4 विस में बढ़त बनाने की चर्चाएं है। कांग्रेसी दावा कर रहे हैं कि धरमजयगढ़, लैलूंगा और खरसिया में जबर्दस्त वोटिंग उनके पक्ष में है। इसके साथ ही जशपुर जिले में जशपुर और पत्थलगांव में पार्टी को बढ़त बताई जा रही है। वहीं बीजेपी के नेता चुनाव में अच्छे प्रदर्शन को लेकर आश्वस्त हैं। जिले में पार्टी रायगढ़, जशपुर, कुनकुरी, लैलूंगा में बढ़त लेने की बात कह रही है। नेता मोदी सरकार की योजना के कारण बीजेपी के पक्ष में माहौल बता रहे हैं।

फार्मूले ने काटी टिकट

मोदी सरकार में केंद्रीय राज्य इस्पात मंत्री विष्णुदेव साय को टिकट नहीं दिया है। उनकी जगह भाजपा ने पहली बार महिला को रायगढ़ संसदीय सीट से अपना प्रत्याशी बनाया है। पिछले चुनाव में विष्णुदेव ने कांग्रेस की आरती सिंह को 2.16 लाख वोटों से हराया था। जबकि छह माह पहले हुए प्रदेश में विधानसभा चुनाव में संसदीय क्षेत्र की सभी आठ विधानसभा में कब्जा कर कांग्रेस करीब 2.06 लाख मतों से आगे है। दावों की हकीकत 23 मई को परिणाम के बाद ही सामने आएगी।

रायगढ़ संसदीय सीट पर अब तक हुए चुनाव

वर्ष विजेता निकटतम अंतर

1962 राजाविजय भूषण सिंह (आरआपी) चंद्रचूण सिंह देव (कांग्रेस) 9117

1967 रजनीगंधा देवी सिंह (कांग्रेस) नरहरी प्रसाद (जनसंघ) 29127

1971 उम्मेद सिंह (कांग्रेस) लालजीत दलजीत सिंह (जनसंघ) 27655

1977 नरहरी प्रसाद (जनसंघ) उम्मेद सिंह(कांग्रेस) 19812

1980 पुष्पदेवी सिंह (कांग्रेस) नरहरी प्रसाद साय(जनसंघ) 81095

1984 पुष्पा देवी सिंह (कांग्रेस) नंदकुमार साय(भाजपा) 112791

1989 नंदकुमार साय (भाजपा) पुष्पा देवी सिंह(कांग्रेस) 21000

1991 पुष्पादेवी सिंह (कांग्रेस) नंदकुमार साय (भाजपा) .....

1996 नंदकुमार साय (भाजपा) पुष्पा देवी सिंह (कांग्रेस) .....

1998 अजीत जोगी (कांग्रेस) नंद कुमार साय (भाजपा) 4200

1999 विष्णुदेव साय (भाजपा) पुष्पा देवी सिंह (कांग्रेस) 5800

2004 विष्णुदेव साय (भाजपा) रामपुकार सिंह (कांग्रेस) 74243

2009 विष्णुदेव साय (भाजपा) हृदयराम राठिया (कांग्रेस) 75000

2014 विष्णुदेव साय (भाजपा) आरती सिंह (कांग्रेस) 216750

X
Raigarh News - chhattisgarh news in the 14 elections only forked the fork then the tough fight
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना