भावनात्मक परिवर्तन को समझकर आत्महत्या रोके जा सकता है : पी अतीत राव

Raigad News - भावनात्मक परिवर्तन को समझकर आत्महत्या रोके जा सकता है : पी अतीत राव रायगढ़ | जिला मानसिक स्वास्थ्य इकाई...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:31 AM IST
Raigarh News - chhattisgarh news suicide can be prevented by understanding emotional change p past rao
भावनात्मक परिवर्तन को समझकर आत्महत्या रोके जा सकता है : पी अतीत राव

रायगढ़ |
जिला मानसिक स्वास्थ्य इकाई द्वारा शुक्रवार को शासकीय एग्रीकल्चर कॉलेज के छात्र-छात्राओं को आत्महत्या रोकथाम के बारे में कार्यशाला के माध्यम से जानकारी दी। कार्यशाला में लगभग 50 छात्र-छात्राओं के साथ कॉलेज के प्राध्यापक एवं सह प्राध्यापकों ने भी हिस्सा लिया। कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य आत्महत्या करने वाले संभावित व्यक्तियों की पहचान एवं उचित संदर्भित करने पर केंद्रित रहा। मास्टर ट्रेनर अतीत राव ने विभिन्न गतिविधियों एवं सामूहिक चर्चा करते हुए प्रतिभागियों को किसी उदास व्यक्ति में पनप रहे आत्महत्या के विचारों को पहचानने के लिए प्रशिक्षण दिया। उन्होंनें बताया कि हर एक आत्महत्या को रोका जा सकता है यदि हम आत्महत्या के पूर्व व्यक्ति में आए व्यवहारिक एवं भावनात्मक परिवर्तनों को समझ सकें। प्रशिक्षण कार्यशाला में जिला मानसिक स्वास्थ्य इकाई प्रभारी वीरेंद्र डंगसेना, सामाजिक कार्यकर्ता संतोष कुमार पांडेय आदि उपस्थित थे।

X
Raigarh News - chhattisgarh news suicide can be prevented by understanding emotional change p past rao
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना