• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • Raigarh News chhattisgarh news supply of 24 hour supply to 34 thousand connections the amount of water that will be used by the same bill

24 घंटे सप्लाई देने 34 हजार कनेक्शनों में लगेंगे मीटर, जितने पानी का उपयोग उतना ही बिल देंगे

Raigarh News - बहुत जल्द शहर के सभी नल कनेक्शन में मीटर लगेंगे। इसके साथ ही लोगों को 24 घंटे पानी दिया जाएगा। पानी के उपयोग पर...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:10 AM IST
Raigarh News - chhattisgarh news supply of 24 hour supply to 34 thousand connections the amount of water that will be used by the same bill
बहुत जल्द शहर के सभी नल कनेक्शन में मीटर लगेंगे। इसके साथ ही लोगों को 24 घंटे पानी दिया जाएगा। पानी के उपयोग पर निर्धारित शुल्क लगेगा, जो निगम ने अभी तय नहीं किया है। अफसर इसका निर्धारण जल्द किए जाने की बात कह रहे हैं। अमृत मिशन के नोडल अफसर आरके भोजसिया ने बताया कि शहर मे 26 हजार पुराने व 8 हजार नए नल कनेक्शनों में यह मीटर निगम द्वारा लगाया जाएगा।

मीटरों की टेस्टिंग के बाद मीटर लगाए जाएंगे। साथ ही नए नल कनेक्शन का काम भी शुरू हो जाएगा। इस योजना के पीछे शासन का मुख्य उद्देश्य सभी घरों तक 24 घंटे पानी की उपलब्ध्ता और जल सरंक्षण है। अभी निगम पुराने नल कनेक्शनों के सर्वे का काम कर रही। नए कनेक्शन के लिए ऑनलाइन आवेदन मंगाने की तैयारी है। इसके अलावा 5 जगहों पर 16 से 24 लाख लीटर क्षमता वाली टंकियों का 20 फीसदी काम पूरा हो चुका है।





पाइप लाइन बिछाने का काम भी अलग-अलग वार्डों में किया जा रहा है। इंटेकवेल से 32 एमएलडी क्षमता वाले नए फिल्टर प्लांट तक पानी लाने के लिए भी सप्लाई लाइन बिछाई जा रही है।

520 जगहों पर पंप संचालन के लिए बिजली विभाग को सालाना तीन करोड़ का बिल का भुगतान

वर्तमान में निगम की व्यवस्था

14500 वैध नल कनेक्शन

02 फिल्टर प्लांट शहर में

250 पानी पंप निगम क्षेत्र में

27 एमएलडी शुद्ध पानी

4832 अवैध नल कनेक्शन

02 करोड़ सालाना राजस्व

13पानी टंकियां व्यवस्था पर 08 करोड़ खर्च

395 हैंड पंप वार्डों में

इससे लोगों को ये फायदा

निगम का दावा है कि शहर के लोग जितना पानी खपत करेंगे, उतना ही बिल आएगा। अफसरों का कहना है कि इससे पानी की बर्बादी नहीं होगी। जल टैक्स वसूल नहीं हो पाता है। उसके बदले पानी मीटर लगाकर बिल वसूला जाएगा। पैसे ज्यादा लगने पर लोग भी पानी की बर्बादी रोकने एहतियात बरतेंगे।

घरेलू उपयोग के नल कनेक्शनों में इस तरह से लगाए जाएंगे डिवाईस।

पंप से पानी और पैसे दोनों की बर्बादी,

अधिकांश जगहों पर पानी की सप्लाई के लिए पाइप लाइन नहीं है। इसलिए निगम 520 जगहों पर पानी पंप और 395 हैंडपंप की व्यवस्था कर रखी है। संचालन के लिए बिजली विभाग को सालाना तीन करोड़ का बिल का भुगतान किया जाता है। खराब होने पर मरम्मत के लिए चार कर्मचारियों की टीम भी भेजी जाती है। लोग पानी भी बर्बाद कर रहे हैं, इससे भूमिगत जल और पैसे दोनों की बर्बादी हो रही है।

इससे पानी चोरी भी पकड़ी जाएगी

अब हर महीने देना होगा बिल अभी निगम को लक्ष्य के मुताबिक पानी का कर नहीं मिलता। आधे से कम की वसूली होती है। इसलिए योजना फायदेमंद हो सकती है। इसके बदले में उपभोक्ता को हर महीने पानी का बिल देना होगा। नई व्यवस्था के बाद निगम पानी की चोरी और अवैध कनेक्शनों पर भी कार्रवाई कर सकते हैं।

बिल को लेकर ड्राफ्ट होगा तैयार

जिन शहरों में अमृत मिशन लागू है। वहां के सभी नल कनेक्शनों में पानी मीटर लगाने की योजना है। रायगढ़ निगम क्षेत्र में भी काम शुरू हो गया है। निगम पानी बिल का फॉर्मूला बना रहा है। प्रति लीटर पानी का बिल कितना होगा? मीटर चार्ज क्या होगा? इन पहलुओं पर निगम के अफसर खाका तैयार कर रहे हैं।

नए कनेक्शन में मीटर अनिवार्य


X
Raigarh News - chhattisgarh news supply of 24 hour supply to 34 thousand connections the amount of water that will be used by the same bill
COMMENT