एक करोड़ पर अटकी थी बात, आरटीओ की माता की पहल पर 3 लाख में हुआ समझौता

Raigad News - सुहेला| ग्राम मोपर में बुधवार दोपहर को हुई सड़क दुर्घटना में बच्ची सोना साहू की मौत के बाद 7 घंटे तक चले हंगामे के...

Oct 12, 2019, 08:00 AM IST
सुहेला| ग्राम मोपर में बुधवार दोपहर को हुई सड़क दुर्घटना में बच्ची सोना साहू की मौत के बाद 7 घंटे तक चले हंगामे के बाद रात लगभग 11 बजे महज 3 लाख रुपए में दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया, जबकि बुधवार को ग्रामीण एक करोड़ की मुआवजे की मांग पर अड़े थे।

मोपर के सरपंच प्रतिनिधि सोनाराम साहू ने बताया कि रायपुर आरटीओ सैलाब साहू की मां अनुराधा साहू की पहल पर मोपर के उपसरपंच विमल मानिकपुरी, खपरी खैरा के सरपंच देवा साहू ,मृतक बच्ची के परिजन एवं गणमान्य नागरिकों के बीच हुई चर्चा में आरोपी पक्ष द्वारा दो-चार दिनों में मृतक के परिजनों को 3 लाख रुपए देने की बात कबूल की गई है। इधर चालक को मुचलके को पर छोड़ दिया गया है। बताना जरूरी है कि बुधवार को सैलाब साहू ने अपने सरकारी वाहन को श्री सीमेंट तक दस्तावेज लेने भेजने का हवाला दिया था जबकि दुर्घटना के दौरान गाड़ी में उनकी माता अनुराधा साहू मौजूद थीं और उन्होंने खुद स्वीकार किया था कि दुर्घटना हुई है। गुरुवार को भी उनकी पहल पर ही समझौता हुआ। प्रशासन की ओर से भाटापारा तहसीलदार प्रवीण तिवारी ने दस हजार रुपए की तत्काल सहायता राशि प्रदान की तथा 15 हजार रुपए पोस्टमार्टम के बाद देने का आश्वासन दिया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि मृतक परिवार द्वारा शव को निजी वाहन से बलौदाबाजार जिला मुख्यालय ले जाया गया जहां पोस्टमार्टम के बाद मृत बच्ची के गृह ग्राम खपरी खैरा में अंतिम संस्कार किया गया। इधर सुहेला पुलिस द्वारा सरकारी वाहन सीजी-02-सी-4500 को जप्त कर लिया गया है तथा आरोपी चालक शंकर बघेल के खिलाफ धारा 304 ए कायम कर मुचलका जमानत पर छोड़ दिया गया। थाना प्रभारी रोशन सिंह राजपूत ने बताया कि चालान पेश करने के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जाएगा।

 

बुधवार को उत्तेजित मोपर के ग्रामीण गुरुवार को सहमे हुए थे

घटना के बाद गुरुवार को मोपर में सन्नाटा पसरा हुआ था। बुधवार को दुर्घटना के बाद ग्रामीण एक करोड़ मुआवजे की पर अड़ने वाले ग्रामीण गुरुवार को सहमे हुए थे। बताना आवश्यक है कि पुलिस और ग्रामीण दोनों पक्षों द्वारा उस वक्त अपने-अपने मोबाइल से वीडियो रिकॉर्डिंग की जी रही थी। रात में जैसे ही बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंचने की सूचना मिली तो ग्रामीण धीरे-धीरे छंटने लगे थे। दबी जुबान से ग्रामीणों ने कहा कि सरकारी अफसर की गाड़ी होने के कारण हम दबाव में आ गए थे।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना