एक गाड़ी से 11.5 हजार कमाते हैं ट्रांसपोर्टर, सेटिंग से होती है कोयले में मिलावटखोरी

Raigad News - जिले में कोयले में डोलो चार (छाई) मिलाकर एनटीपीसी समेत निजी कंपनियों को चूना लगाया जा रहा है। इसमें कंपनियों के...

Dec 04, 2019, 08:31 AM IST
Raigarh News - chhattisgarh news transporter earns 115 thousand from a vehicle coal is adulterated by setting
जिले में कोयले में डोलो चार (छाई) मिलाकर एनटीपीसी समेत निजी कंपनियों को चूना लगाया जा रहा है। इसमें कंपनियों के क्वालिटी कंट्रोल यूनिट के स्टाफ मिले हुए हैं। सोमवार को पुलिस की कार्रवाई में जय भोले कोल डिपो में मिलावटखोरी पकड़ी गई पर रेलवे साइडिंग और लगभग 6 कोल डिपो में बड़े पैमाने पर यह खेल बड़े पैमाने पर चल रहा है। एक कोयला लोड ट्रेलर में मिलावट से ट्रांसपोर्टर साढ़े 11 हजार रुपए तक की कमाई होती है।

25 टन कोयला ढोने वाले ट्रेलर में 5 टन तक छाई मिलाते हैं मिलावटखोर, छह कोल डिपो में बड़े पैमाने पर चल रहा गड़बड़ी का खेल

15 डिपो काम कर रहे हैं, 5-6 में मिलावट

जिले में खनिज विभाग ने 32 कोल डिपो के लाइसेंस दिए हैं। 15 चालू हैं जिनमें 5 से 6 डिपो संचालकों ने भारी मात्रा में डोलो चार (छाई) डंप की हुई है, यहां मिलावट होती है। जानकार कहते हैं कि छाई ट्रेडर को नहीं बेची जा सकती अगर इसका इस्तेमाल करने वालों को दिया जाए मिलावट में रोक लगाई जा सकती है।

2. पांच से 10 हजार टन तक कोयला परिवहन का ठेका लेने वाले ट्रांसपोर्टर माइंस से फैक्ट्री के बीच डिपो भाड़े पर लेते हैं। यहां अपनी गाड़ियों से कोयला उतारकर इसमें छाई लोड करा देते हैं। ये ट्रांसपोर्टर कंपनी के क्वालिटी कंट्रोल स्टाफ से अच्छी सेटिंग रखते हैं। मिलावटी कोयले को अच्छी ग्रेड का कोयला प्रमाणित कर ये कर्मचारी कंपनी को चूना लगाते हैं।

एसपी की कार्रवाई से हड़कंप

एसपी संतोष सिंह के निर्देश पर पुलिस ने मिलावटखोरी पर बड़ी कार्रवाई की है। इससे छाई मिलाने वाले कोल डिपो संचालकों में हड़कंप है। सूत्रों के मुताबिक पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि जय भोले कोल डिपो में एनटीपीसी के कोयले में मिलावटखोरी में मां कालिका ट्रांसपोर्ट राजगांगपुर ओडिशा के ऑनर नरेश पोद्दार की भूमिका तो नहीं है। ओडिशा के दुलंगा माइंस से एनटीपीसी लारा तक परिवहन का ठेका इसी कंपनी के पास है। पुलिसिया कार्रवाई में सीटू अग्रवाल, मनोज टेमटा और आरिफ नाम के सामने आए हैं। इनकी गाड़ियां मां कालिका के खाते में चलती हैं। ये तीनों कुख्यात कोल ट्रांसपोर्टर माने जाते हैं। इनके रसूख और जुगाड़ के कारण पुलिस को इन तक पहुंचने में मुश्किल होगी।

X
Raigarh News - chhattisgarh news transporter earns 115 thousand from a vehicle coal is adulterated by setting
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना