विज्ञापन

कच्ची खोली में दीवार गिराने पर हुआ था विवाद दोषी कौन, अब तक पता नहीं लगा सकी पुलिस

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 02:45 AM IST

Raigarh News - दो दिन पहले सफाई दरोगा का सिर फोड़ा था, दोनों पक्षों के बयान के बाद दर्ज होगा मामला भास्कर न्यूज | रायगढ़, कच्ची...

Raigarh News - chhattisgarh news who was guilty of throwing a wall in a raw room
  • comment
दो दिन पहले सफाई दरोगा का सिर फोड़ा था, दोनों पक्षों के बयान के बाद दर्ज होगा मामला

भास्कर न्यूज | रायगढ़,

कच्ची खोली में दीवार गिराने के बाद निगम व स्थानीय लोगों के बीच हुए विवाद व मारपीट की घटना में दोषी कौन है, इसका पता अब तक पुलिस नहीं लगा सकी है। दरअसल घटना के बाद दोनों पक्ष थाने पहुंच गए थे। दोनों ने लिखित आवेदन दिया था, पुलिस मामले में दोनों पक्षों का बयान सुनने के बाद कार्रवाई करने की बात कह रही है।

पुलिस पिछले दो दिनों से दोनों पक्षों को बयान के लिए बुला रही है। शुक्रवार को दोनों पक्षों से कोई भी बयान देने थाने नहीं पहुंचा। वहीं शनिवार को सिर्फ निगम के 4 इंजीनियर और स्वास्थ्य निरीक्षक का बयान हो सका है। अभी भी निगम से घायल राजू पांडेय और कच्ची खोली के लोगों का बयान शेष है। चूंकि घटना के बाद दोनों पक्षों ने थाने में आवेदन दिया है, इसलिए पुलिस मामले में अनावेदक और आवेदक दोनों पक्षों को सुनने के बाद ही आगे की कार्रवाई करेगी। बहरहाल निगम में कर्मचारी संघ पुलिस की कार्रवाई का इंतजार कर रही है। मारपीट करने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई तो कर्मचारी काम बंद कर हड़ताल पर जा सकते हैं।

दो दिन पहले सफाई दरोगा का सिर फोड़ा था, दोनों पक्षों के बयान के बाद दर्ज होगा मामला

भास्कर न्यूज | रायगढ़,

कच्ची खोली में दीवार गिराने के बाद निगम व स्थानीय लोगों के बीच हुए विवाद व मारपीट की घटना में दोषी कौन है, इसका पता अब तक पुलिस नहीं लगा सकी है। दरअसल घटना के बाद दोनों पक्ष थाने पहुंच गए थे। दोनों ने लिखित आवेदन दिया था, पुलिस मामले में दोनों पक्षों का बयान सुनने के बाद कार्रवाई करने की बात कह रही है।

पुलिस पिछले दो दिनों से दोनों पक्षों को बयान के लिए बुला रही है। शुक्रवार को दोनों पक्षों से कोई भी बयान देने थाने नहीं पहुंचा। वहीं शनिवार को सिर्फ निगम के 4 इंजीनियर और स्वास्थ्य निरीक्षक का बयान हो सका है। अभी भी निगम से घायल राजू पांडेय और कच्ची खोली के लोगों का बयान शेष है। चूंकि घटना के बाद दोनों पक्षों ने थाने में आवेदन दिया है, इसलिए पुलिस मामले में अनावेदक और आवेदक दोनों पक्षों को सुनने के बाद ही आगे की कार्रवाई करेगी। बहरहाल निगम में कर्मचारी संघ पुलिस की कार्रवाई का इंतजार कर रही है। मारपीट करने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई तो कर्मचारी काम बंद कर हड़ताल पर जा सकते हैं।

निगम कर्मियों का मनोबल टूट रहा

घटना के दौरान मौके पर मौजूद निगम के स्वास्थ्य निरीक्षक सूर्यमणि तिवारी बताते है कि घटना के दौरान विजय राजपूत ने इंजीनियर यज्ञा सिदार का मोबाइल छीना उसके साथ बदसलूकी कर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का प्रयास किया। विजय राजपूत को रोकने आगे बढ़े सफाई दरोगा राजू पांडेय पर पत्थर से हमला किया। जिम्मेदार नागरिकों के ऐसे बर्ताव से निगम कर्मियों को मनोबल टूट रहा है।

सभी के बयान नहीं लिए हैं


X
Raigarh News - chhattisgarh news who was guilty of throwing a wall in a raw room
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन