विज्ञापन

अहिंसा दिवस / हिंसा, झगड़ा या विवाद से तौबा, ऐसे गांव जहां हत्या, बलवा तो छोड़िए मारपीट भी नहीं हुई

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 11:12 AM IST


Raigad Ideal village where criminal incidents do not occur, no FIR in police stations
X
Raigad Ideal village where criminal incidents do not occur, no FIR in police stations
  • comment

  • आदर्श गांव :16 साल में नहीं हुए बड़े अपराध, छोटे विवादों का खुद ही करते हैं निपटारा 
  • चोरी व साधारण घटना को भी लेते हैं गंभीरता से, पारिवारिक हिंसा पर भी रहती है नजर

रायगढ़. एक ओर हिंसा, उपद्रव, बलवा, हत्या, दुष्कर्म की घटनाएं हम रोज सुनते और पढ़ते हैं। कई बार ऐसा भी लगता है कि कोई ऐसी जगह हो, जहां ये सब न हो और लोग सुकून व आराम से चिंतामुक्त होकर रह सकें। जिले में कुछ गांव ऐसे हैं जहां लंबे अरसे से अपराध दर्ज नहीं हुआ है। पुलिसवालों के लिए ये गांव आदर्श-गांव की गिनती में आते हैं। इन गांव में अपराध का ग्राफ दूसरे जगहों की तुलना में बेहद कम है। कई गांव ऐसे हैं जहां जनसंख्या ज्यादा होने के बावजूद अपराध बेहद कम हैं। अगर कोई छोटा-मोटा विवाद होता भी है तो ग्रामीण खुद ही मिलकर निपटा लेते हैं। 

आबादी लगभग दो हजार मगर 2003 से शून्य अपराध

  1. कोतरा रोड थाना क्षेत्र में स्थित 2 हजार आबादी का गांव है छोटे रामपुर। रामपुर बस्ती में लगभग 250 से ज्यादा परिवार रहते हैं। पुलिस रिकार्ड के अनुसार इस गांव में वर्ष 2003 में एक मारपीट का मामला आया था। इसके बाद से इस गांव में कोई घटना नहीं हुई है। इसके आसपास के गांवों में आए दिन कोई ना कोई हिंसात्मक घटनाएं होती रही हैं। लंबे समय से अपराध मुक्त गांव होने के पीछे बड़ा कारण यहां के लोगों की मानसिकता है। जो छोटे-मोटे झगड़ों को खुद ही आपस में निपटा लेती है। किसी बड़े विवाद या झगड़े की नौबत ही नहीं आने देते। 

  2. गांव में घटनाएं नहीं होने के पीछे कारण 

    ग्रामीणों और थाना प्रभारियों से बात करने पर पता चला कि हर गांव में वाद-विवाद चोरी जैसी घटनाएं आम होती है। मगर इन गांव के लोग इन्हीं छोटी-छोटी बातों को लेकर बेहद गंभीरता से लेते हैं। छोटे-मोटे विवाद होने पर घर में ही उसे सुलझा लेते हैं। खासकर एक परिवार के मामले घर में ही सुलझा लिए जाते हैं। इस चीज पर भी नजर रखी जाती है कि घर में ही कोई प्रताड़ना का शिकार न हो। 

  3. ये गांव पुलिस की लिस्ट में आदर्श

    • कोतरा रोड थाना -छोटे रामपुर 
    • चक्रधर नगर थाना -सरबहाल 
    • खरसिया थाना -कलमीपाठ, सराईपाली 
    • जोबी चौकी क्षेत्र-बघझर 
    • पुसौर थाना-सुकुलभटली 

  4. खुद अपनी समस्या सुलझा लेते हैं 

    जिले में कुछ गांव ऐसे हैं जहां लंबे समय से कोई हिंसात्मक घटनाएं नहीं हुई है। गांव के लोग खुद अपनी समस्याएं सुलझा लेते है। इसी कारण यहां का माहौल भी दूसरे गांवों की तुलना बेहतर है।

    राजेश अग्रवाल, एसपी, रायगढ़ 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन