पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ठेकेदार से 13 लाख की लूट मामले में भाजपा नेता गिरफ्तार, लूट की पूरी कहानी ही झूठी निकली

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में लूट के आरोपी और साजिशकर्ता व बरामद रकम - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में लूट के आरोपी और साजिशकर्ता व बरामद रकम
  • खरसिया क्षेत्र स्थित एसबीअाई के पास दो दिन पहले 3 दिसंबर को रुपए छीनने की कहानी गढ़ी गई
  • अड़भार नगर पंचायत अध्यक्ष ने साजिश रची और बड़े भाई से उसके बेटे और साले रुपए लेकर भागे

रायगढ़. छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में ठेकेदार के 13 लाख रुपए की लूट की कहानी ही पूरी झूठी निकली। भाजपा नेता ने अपने बेटे और उसके साले के साथ मिलकर पूरी कहानी रची थी। इसके लिए उसने अपने बड़े भाई को मोहरा बना दिया। घटना वाले दिन भाजपा नेता के बेटे ने ही अपने साले के साथ मिलकर रुपए छीने औेरे भाग निकला। पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए गुरुवार को भाजपा नेता कार्तिकराम रात्रे, उसके बेटे विक्रम रात्रे और साले चित्रसेन को गिरफ्तार कर लिया। 

1) रुपए निकालने के लिए गांव के भी एक युवक को साथ ले गया बैंक

दरअसल, जांजगीर-चांपा के अड़भार निवासी कन्हैया राठौर पेशे से ठेकेदार है।  वह नगर पंचायत में ठेकेदारी करता है और उसका बैंक एकाउंट रायगढ़ के खरसिया स्थित एसबीआई की शाखा में है। कन्हैया ने दो दिसंबर को अपने सहयोग की अगतराम रात्रे को 7 लाख व 6 लाख के दो सेल्फ चेक देकर रुपए निकालने के लिए बैंक भेजा। उसी दिन इस बात की जानकारी अगतराम ने अपने छोटे भाई और नगर पंचायत अध्यक्ष कार्तिक राम रात्रे को दी। कार्तिक ने गांव के ही विकास देवांगन को एक चेक देकर बैंक भेज दिया। 

इसके बाद पीछे से कार्तिक राम और अगतराम भी स्काॅर्पियो से बैंक पहुंच गए। बैंक में तीनों एक साथ अंदर गए। इस पर विकास ने सेल्फ चेक से 6 लाख और अगतराम ने 7 लाख रुपए निकाले। रुपए निकालने के बाद विकास ने उसी समय अगतराम को दे दिए और वहां से चला गया। अगतराम दोपहर करीब 12.50 बजे अपने भाई कार्तिकराम के साथ रुपयों से भरे दोनों बैग लेकर बाहर निकला। बैग लेकर अभी बैंक से करीब 10 मीटर ही आगे गए होंगे कि बाइक सवार दो बदमाश अगतराम से दोनोंे बैग छीनकर भाग निकले। 

वारदात के बाद कार्तिक ने ही पुलिस को फोन कर वारदात की सूचना दी। इसके बाद अगतराम ने खरसिया थाने में एफआईआर दर्ज कराई। पूछताछ में कार्तिकराम ने बाइक सवारोंे के भागने की गलत दिशा बताई। जबकि अगतराम के बताए अनुसार, पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो उसमें बाइक सवार नजर आ गए। उनके पास लूटे गए बैग भी मौजूद थे। अगतराम और विकास देवांगन को ने सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों को पहचान लिया। उनमें से एक कार्तिकराम का पुत्र विक्रम था। 

इस पर पुलिस ने विक्रम रात्रे को हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की गई तो विक्रम ने बताया कि अपने साले चित्रसेन के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दिया था। साथ ही यह भी बताया कि लूट की पूरी साजिश उसके पिता कार्तिकराम रात्रे ने रची थी। इस पर पुलिस ने कार्तिकराम को भी हिरासत में ले लिया और पूछताछ की। पूछताछ में कार्तिकराम ने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस ने लूटे गए पूरे रुपए, स्कॉर्पियो, वारदात में प्रयुक्त बाइक और दो मोबाइल भी बरामद किए हैं। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser