हादसा / रिश्तेदार को घर पहुंचा कर लौट रहे थे, गाय से टकराई बाइक 2 दोस्तों की मौत, एक गंभीर



प्रतिकात्मक फोटो प्रतिकात्मक फोटो
X
प्रतिकात्मक फोटोप्रतिकात्मक फोटो

  • पवनी से देर रात लौटते समय टुंड्री-खपरीडीह पुल के पास सड़क पर बैठी गाय से हुई टक्कर
  • तीनों बीएसएनएल ठेकेदार के लिए करते थे काम, सड़क दुर्घटना में 9 माह में 214 लोगों की मौत 

Dainik Bhaskar

Oct 19, 2019, 12:02 PM IST

शिवरीनारायण. नगर के तीन दोस्तों की गुरुवार देर रात पवनी से लौटते समय सड़क हादसे में मौत हो गई। टुंड्री-खपरीडीह पुल के पास उनकी बाइक सड़क पर बैठी गाय से टकरा गई। टक्कर के बाद तीनों युवक सड़क पर गिर पड़े। जिससे बाइक चला रहे और बीच में बैठे युवकों का सिर फट गया। इसके चलते दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि पीछे बैठे युवक को बिलाईगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। दोनों युवक अपने घर के इकलौते बेटे थे। 

अंधेरा होने के कारण सड़क पर बैठी गाय नहीं नजर आई

  1. शिवरीनारायण निवासी दिलीप भैना (22) पुत्र राजकुमार भैना, सोनार मोहल्ला निवासी भूपति वैष्णव (21) पुत्र हर्षमणि वैष्णव और पवनी के अमलडीहा निवासी वीरेंद्र प्रधान (22) तीनों दोस्त थे। तीनों युवक बीएसएनएल के प्राइवेट ठेकेदार के साथ काम करते थेे। इनका ऑफिस गिधौरी में है। दिलीप भैना के परिवार के कुछ लोग पवनी में रहते हैं, उनमें से किसी को गंभीर बीमारी है। उनका इलाज मुंबई में चल रहा था, वे लोग गुरूवार को फ्लाइट से रायपुर आए। उन्हें लेने के लिए तीनों युवक कार से रायपुर चले गए।

  2. रिश्तेदारों को पवनी छोड़ने के बाद तीनों वीरेंद्र प्रधान की बाइक पर देर रात शिवरीनारायण लौट रहे थे। टुंड्री-खपरीडीह पुल के पास पहुंचे थे कि सड़क पर बैठी एक काले रंग की गाय से टकरा गए। माना जा रहा है कि अंधेरा होने के कारण गाय नहीं दिखाई दी होगी। इस टक्कर से तीनों युवक सड़क पर गिर गए। दिलीप और भूपति के सिर में गंभीर चोट आई। दाेनों के सिर फट गए। खून ज्यादा बहने से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। 112 की मदद से घायल को अस्पताल पहुंचाया गया। 

  3. सुरक्षा के लिए हेलमेट नहीं पहना था किसी ने 

    इस घटना का एक अहम पहलू यह भी है कि बाइक में सवार तीनों में से किसी भी युवक ने हेलमेट नहीं पहना था। जिले में होने वाली सड़क दुर्घटना में अधिकांश मौतें दुर्घटना के दौरान सिर में चोट लगने से ही हो रही हैं। पुलिस द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करने के लिए प्रयास किया जाता है, हेलमेट नहीं पहनने वालों पर कार्रवाई भी होती है, फिर भी लेाग अपनी सुरक्षा के लिए भी हेलमेट नहीं पहनना चाहते हैं। 

  4. 9 माह में 512 सड़क हादसे

    सड़क दुर्घटना में इस वर्ष के पहले नौ माह में 512 सड़क दुर्घटनाएं हुई, जिसमें 214 लोगों की मौत हो चुकी है। इन घटनाओं में 469 लोग घायल हुए हैं। जबकि इसी अवधि में सितंबर 2018 में दुर्घटनाओं की संख्या भी इस साल से अधिक थी, पिछले वर्ष 538 दुर्घटनाएं हुई थीं जिसमें 224 लोगों की माैत हुई थी व 470 लोग घायल हुए थे। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना