कार्रवाई / परिजनों की मर्जी के खिलाफ शादी और फिर युवक ने की आत्महत्या, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार

X

  • लैलूंगा पुलिस ने 14 लोगों के खिलाफ दर्ज किया था मामला, सरपंच सहित अन्य सात आरोपी फरार
  • युवती के परिजनों ने अपहरण कर की थी युवक की पिटाई, पंचायत ने लगाया था 60 हजार का जुर्माना 

Apr 05, 2019, 12:12 PM IST

रायगढ़. परिजनों की मर्जी के खिलाफ भागकर शादी करने और फिर युवक के आत्महत्या करने के मामले में लैलूंगा पुलिस ने गुरुवार को 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने इस मामले में 14 लोगों को आरोपी बनाया था। इस मामले में सरपंच सहित अन्य लोग अभी फरार चल रहे हैं। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। शादी के अगले ही दिन युवती के परिजनों ने युवक का अपहरण कर उससे मारपीट की थी। वहीं पंचायत ने भी 60 हजार का जुर्माना लगाया था। 

दो दिन में ही हो गया था प्रेम कहानी का दुखद अंत

पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को मनु पैकरा, हलधर कोला, धनी राम पैकरा, करम सिंह पैकरा, राम सिंह पैकरा, गांधी पैकरा, कार्तिक पैकरा को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। बचे हुए अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। मामले में गांव का सरपंच की गिरफ्तारी नहीं हुई है, जिसने पंचायत बुलाई और युवक पर जुर्माना लगाया। पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है। जानकारी के मुताबिक लैलूंगा निवासी प्रकाश पैकरा (22) का गांव की ही युवती से प्रेम संबंध था। दोनों ने 10 मार्च को भागकर शादी की थी। 

दो दिन में ही हो गया था प्रेम कहानी का दुखद अंत

पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को मनु पैकरा, हलधर कोला, धनी राम पैकरा, करम सिंह पैकरा, राम सिंह पैकरा, गांधी पैकरा, कार्तिक पैकरा को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। बचे हुए अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। मामले में गांव का सरपंच की गिरफ्तारी नहीं हुई है, जिसने पंचायत बुलाई और युवक पर जुर्माना लगाया। पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है। जानकारी के मुताबिक लैलूंगा निवासी प्रकाश पैकरा (22) का गांव की ही युवती से प्रेम संबंध था। दोनों ने 10 मार्च को भागकर शादी की थी। 

इसके बाद युवती के परिजनों ने अगले दिन उसका अपहरण कर लिया और मारपीट की। इसके बाद रात में ही पंचायत बुलाई गई और उस पर जुर्माना लगाकर तत्काल जमा करने के आदेश हुए। इससे परेशान होकर प्रकाश ने 12 मार्च को आत्महत्या कर ली थी। जांच में पुलिस ने मीटिंग करने मनु पैकरा, गोपाल यादव, करमा नंद पैकरा, सजन पैकरा, हलधर कोला, यदुमणी, भूपदेव पैकरा, पहलवान, धनी राम पैकरा, उसत पैकरा, करम सिंह पैकरा, राम सिंह पैकरा, गांधी पैकरा, कार्तिक पैकरा, जमुनाडिहा एवं अन्य को दोषी पाया है। 

इसके बाद युवती के परिजनों ने अगले दिन उसका अपहरण कर लिया और मारपीट की। इसके बाद रात में ही पंचायत बुलाई गई और उस पर जुर्माना लगाकर तत्काल जमा करने के आदेश हुए। इससे परेशान होकर प्रकाश ने 12 मार्च को आत्महत्या कर ली थी। जांच में पुलिस ने मीटिंग करने मनु पैकरा, गोपाल यादव, करमा नंद पैकरा, सजन पैकरा, हलधर कोला, यदुमणी, भूपदेव पैकरा, पहलवान, धनी राम पैकरा, उसत पैकरा, करम सिंह पैकरा, राम सिंह पैकरा, गांधी पैकरा, कार्तिक पैकरा, जमुनाडिहा एवं अन्य को दोषी पाया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना