हकीकत / जंगलों में छिपे हैं 6.6 करोड़ के 132 नक्सली, कमलेश सबसे अधिक 25 लाख का इनामी

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 10:55 AM IST



132 Naxalites of 6.6 crore hidden in forests
X
132 Naxalites of 6.6 crore hidden in forests

  • कांकेर के 3 एरिया कमेटी की कमान महिलाओं के हाथ में
  • 9 एलओएस में भी महिलाओं की संख्या अधिक

कांकेर (खालिद अख्तर खान). अनुकूल मौसम को देखते पुलिस जिले में नक्सलियों के सफाए के लिए मुहिम छेड़ चुकी है। गृह विभाग और जिला पुलिस द्वारा जारी सूची के अनुसार आज की स्थिति में कांकेर जिले के जंगल में 6.68  करोड़ के कुल 132 कुख्यात इनामी नक्सली मौजूद हैं। जिसमें सबसे अधिक उत्तर बस्तर डिविजन प्रभारी कमलेश पर 25 लाख का इनाम घोषित है। इसके नीचे काम करने वाली तीन एरिया कमेटी है। इसमें सभी का प्रभार महिला नक्सलियों को दिया गया है।

 

जिले में मौजूद कुल नक्सलियों में भी महिला नक्सलियों की ही तादाद अधिक है। मई-जून में जंगल में विजिबिलिटी बढ़ने से पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ विशेष अभियान छेड़ रखा है। जवान जंगलों में रहते ऑपरेशन चला रहे हैं। चार दिनों में आलपरस मुठभेड़ के बाद पुलिस को 8 लाख रुपए की महिला इनामी नक्सली को पकड़ने में कामयाबी मिली है। साथ ही 1 लाख की इनामी महिला नक्सली ने भी आत्मसमर्पण किया है। जिले में उत्तर बस्तर डिविजन से लेकर एलओएस तक के कुल 132 नक्सली मौजूद हैं। जिनके खिलाफ उनके कैडर के अनुसार इनाम घोषित है।

 

naxal

 

जिले में 9 एलओएस, इनमें भी महिलाओं की संख्या अधिक 
जिले में तीन एरिया कमेटियों के अंतर्गत कुल 9 एलओएस (लोकल ऑर्गेनाइजेशन स्क्वायड) काम रही हैं। रावघाट एरिया कमेटी अंतर्गत पानीडोबिर और चारगांव, परतापुर एरिया कमेटी अंतर्गत मेढकी, बड़गांव, काकनार और प्लाटून नंबर 5, किसकोड़ो एरिया कमेटी अंतर्गत किसकोड़ो, बुधियारमारी, कुएमारी, अंतागढ़ एलओएस काम कर रही है। जिसमें पानीडोबिर एलओएस प्रभारी मीना नेताम उर्फ मनकी निवासी लाटमरका, बड़गांव एलओएस प्रभारी दर्शनपद्दा नारायणपुर का नाम कई घटनाओं में शामिल है। जिनके खिलाफ 5-5 लाख रुपए इनाम घोषित है।
 

तीनों एरिया कमेटी प्रभारी महिला

जिले में तीन एरिया कमेटी रावघाट, किसकोड़ो और परतापुर काम कर रही हैं। सभी की प्रभारी महिलाएं हैं। इसमें रावघाट एरिया कमेटी की प्रभारी राजे कांगे उर्फ मालती उर्फ निर्मला निवासी कसई फरसगांव, परतापुर कमेटी की प्रभारी ललित पद्दा निवासी भामरागढ़ और किसकोड़ो एरिया कमेटी की प्रभारी सरिता उर्फ अरूण, अरूणक्का निवासी नालगोंडा आंध्रपदेश है। सभी पर इनाम हैं।

 

संख्या कम हुई तो कोरर एरिया कमेटी भंग

कोरर एरिया कमेटी में नक्सलियों की संख्या कम होने से कमेटी भंग हो गई है। इसके सदस्य किसकोड़ो एरिया कमेटी व कुएमारी एलोएस के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। पुलिस के अनुसार लगातार अभियान चलाने से जिले में नक्सलियों की संख्या अब काफी कम हो गई है। ग्रामीण भी अब नक्सलियों के साथ नहीं जाना चाहते हैं। जिससे उनकी संख्या घटती जा रही है।

 

कमलेश को लंबे समय से तलाश रही है पुलिस 
कमलेश जिले में सभी एरिया कमेटी, प्लाटून कंपनी, एलओएस को ऑपरेट करने के साथ बड़े हमलों में शामिल होता है। पुलिस इसकी लंबे समय से तलाश कर रही है लेकिन यह पकड़ से बाहर है। इसके बाद मिलिट्री कंपनी नंबर 5 का कमांडर राजू सलाम 37 वर्ष निवासी मरदा कांकेर के खिलाफ 10 लाख का इनाम घोषित किया गया है। जिले में प्लाटून नंबर 28 भी काम कर रही है। जिसका प्रभारी प्रभाकर उर्फ रवि आंध्रप्रदेश है। इसका प्रमुख काम नक्सली सामग्री सप्लाई करना है। इसका साथ सुरेश देता है। टीम में 6 लोग शामिल हैं।

COMMENT