सारकेगुड़ा कांड / मारे गये 17 लोग नक्सली नहीं थे, कुछ पर दर्ज थे आपराधिक मामले, जांच रिपोर्ट में खुलासा

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
X
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर

  • बीजापुर जिले के सारकेगुड़ा से साल 2012 में आई थी कथित मुठभेड की खबरें, सुरक्षा बल पर लगे थे हत्या के आरोप 
  • अब छत्तीसगढ़ की विधानसभा में उठेगा मुद्दा, जिनकी मौत हुई वो नक्सली थे यह साबित नहीं कर सके सुरक्षा बल   

दैनिक भास्कर

Dec 01, 2019, 09:53 PM IST

बीजापुर. करीब एक महीने पहले जमा की गई सारकेगुड़ा आयोग की रिपोर्ट में दर्ज तथ्य रविवार को लीक हो गए। यह बातें सामने आईं कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के सारकेगुड़ा में 28 जून 2012 को हुई मुठभेड़ में मारे गए लोग नक्सली नहीं थे। न ही गांववालों की तरफ से किसी तरह की गोलीबारी की गई थी। मारे गए लोग नक्सली थे, इस संबंध में सुरक्षाबल कोई प्रमाण नहीं दे सके हैं। सारकेगुड़ा गांव में 17 लोगों की मौत पर सवाल उठने के बाद बाद तत्कालीन भाजपा सरकार ने एक सदस्यीय न्यायिक जांच आयोग का गठन किया था। यह रिपोर्ट इसी आयोग की है। 


आयोग के अध्यक्ष जस्टिस विजय कुमार अग्रवाल बनाए गए। करीब 7 सात साल की सुनवाई और जांच के बाद जस्टिस अग्रवाल ने रिटायरमेंट से पहले 17 अक्टूबर को मामले की रिपोर्ट सरकार को सौंप दी थी। शनिवार की देर रात यह रिपोर्ट छत्तीगसढ़ कैबिनेट के सामने पेश की गई है। इसे अब सदन में पेश किया जाना है। अब इसके आधार पर राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो गई है। अभी जो हिस्से लीक हुए हैं उनके मुताबिक मारे गये ग्रामीणों में कोई भी नक्सली था यह सुरक्षाबल साबित नहीं कर पाये।

आयोग ने यह भी कहा है कि पुलिस की जांच दोषपूर्ण है और उसमें हेराफेरी की गई है। इसमें घटनास्थल से भरमार, छर्रों आदि की जब्ती को खारिज कर दिया गया है। इस मामले की पैरवी करने वाली अधिवक्ता ईशा खंडेलवाल कहती हैं ये गांववालों की लड़ाई थी। लंबे सफर के बाद अब न्याय की बारी है। रिपोर्ट के संबंध में वे कहती हैं कि उन्होंने भी सोशल मीडिया में रिपोर्ट देखी है, लेकिन उन्हें या गांव वालों को अधिकृत रूप से कोई रिपोर्ट नहीं सौंपी गई है। सामाजिक कार्यकर्ता बेला भाटिया ने कहा कि 2012 में फर्जी मुठभेड़ का दावा करने वाली कांग्रेस रिपोर्ट को एक महीने तक सदन में पेश नहीं कर सकी। सरकार को चाहिये कि जल्द से जल्द पीड़ितों को न्याय दिलाए।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना