छत्तीसगढ़ / 411 दिन में 81 नक्सली मारे गए, 25 जवान शहीद हुए और 57 ग्रामीणों ने जान गंवाई

छत्तीसगढ़ में 13 महीने में 350 नक्सलियों ने सरेंडर किया है।- फाइल फोटो छत्तीसगढ़ में 13 महीने में 350 नक्सलियों ने सरेंडर किया है।- फाइल फोटो
X
छत्तीसगढ़ में 13 महीने में 350 नक्सलियों ने सरेंडर किया है।- फाइल फोटोछत्तीसगढ़ में 13 महीने में 350 नक्सलियों ने सरेंडर किया है।- फाइल फोटो

  • विधानसभा में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने जानकारी दी, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पूछा था सवाल
  • बीजापुर में 15 ग्रामीण मारे गए, 9 जवान हुए शहीद, सुकमा में सर्वाधिक 199 नक्सलियों ने सरेंडर किया

दैनिक भास्कर

Mar 05, 2020, 11:54 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में पिछले 13 महीनों (करीब 411 दिनों) में 81 नक्सली मारे गए, जबकि 25 जवान शहीद हुए हैं। विधानसभा में बुधवार को गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने इसको लेकर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नक्सली हिंसा में 57 ग्रामीणों की भी मौत हुई है। जबकि 350 नक्सलियों ने पुलिस के सामने सरेंडर किया है। इसको लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने लिखित सवाल किया था। 


सुकमा में मारे गए सबसे ज्यादा नक्सली
गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने बताया कि 1 जनवरी 2019 से 15 फरवरी 2020 तक सर्वाधिक 23 नक्सली सुकमा जिले में मारे गए हैं। इसके अतिरिक्त बीजापुर में 16, दंतेवाड़ा में 14, राजनांदगांव जिले में 8, बस्तर में 6, नारायणपुर 6, धमतरी में 5 और कांकेर में दो नक्सली मारे गए हैं। इसके अलावा कबीरधाम जिले में भी एक नक्सली मारा गया। 


गृहमंत्री साहू ने बताया कि इस अवधि के दौरान राज्य के बीजापुर जिले में सबसे अधिक 15 ग्रामीणों और 9 पुलिस कर्मियों की मौत हो गई। साहू ने बताया कि राज्य के सुकमा जिले में सबसे अधिक 199 नक्सलियों ने सरेंडर किया। वहीं, दंतेवाड़ा जिले में 79 नक्सलियों और बीजापुर जिले में 56 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना