पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

छत्तीसगढ़ के स्कूलों में की गई छुट्‌टी, प्रदेश में धारा 144 लागू, गृहमंत्री शाह ने मुख्यमंत्री बघेल से की बात

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजधानी रायपुर में सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान बाजार में पुलिसकर्मियों ने गश्त करने के साथ ही लोगों से भी बातचीत की।
  • अलर्ट घोषित होते ही सड़कों पर आई फोर्स, शराब दुकानें बंद, आतिशबाजी पर रोक
  • डीजीपी अवस्थी ने दोपहर में ही अलर्ट कर दिया था, रात में आई फैसले की सूचना

रायपुर. अयोध्या मामले पर शनिवार को फैसला आने के बाद प्रदेश के सभी स्कूलों में एहतियातन छुट्‌टी कर दी गई है। प्रदेश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए धारा 144 लगा दी गई है। जगह-जगह पुलिस फोर्स तैनात है। डीजीपी डीएम अवस्थी ने शुक्रवार दोपहर में ही अलर्ट कर दिया था। इसके बाद रात से ही गश्त जारी है और वाहनों की चेकिंग की जा रही है। प्रदेश में संवेदनशील इलाकों में खास तौर से पुलिस और इंटेलीजेेंस की नजरें लगी हुई हैं। इस बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने फोन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात की और हालात पर चर्चा की। 

1) मुख्यमंत्री बघेल ने सतर्कता बरतने के दिए आदेश

सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से चर्चा की है। गृहमंत्री शाह ने प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में मुख्यमंत्री से जानकारी ली। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अयोध्या मसले पर लोगों से आपसी सद्भाव और शांति बनाए रखने की अपील की है। साथ ही मुख्य सचिव और डीजीपी से चर्चा कर सतर्कता बरतने के निर्देश दे दिए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसको लेकर ट्वीट भी किया है। वहीं एहतियात बरतने के लिए शराब की दुकानें बंद रखने और आतिशबाजी पर रोक के आदेश हैं। इसके साथ ही बोतल में पेट्रोल बेचने पर भी रोक लगाई गई है। 

 

अफसरों ने बताया कि व्हॉट्सएप ग्रुप के मैसेजों की निगरानी भी शुरू कर दी गई है। शनिवार सुबह से विशेष गश्ती दल ने राजधानी की कमान संभाल ली है। पुलिस ने लोगों को अगले दो दिन तक सावधान रहने के लिए कहा है। छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों के जिन एक-दो क्षेत्रों में पूर्व में छिटपुट घटनाएं हुई हैं, उन्हें संवेदनशील श्रेणी में रखा गया है। इनमें रायपुर के अलावा कांकेर, बलौदाबाजार, केशकाल, महासमुंद-सराईपाली और बिलासपुर के कुछ इलाके हैं। शुक्रवार की रात से ही वहां पहरा बिठा दिया गया है। 

रेलवे स्टेशन, बस अड्‌डे और एयरपोर्ट पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रायपुर में एसएसपी आरिफ शेख ने अयाेध्या पर फैसले की घोषणा होते ही रात 10 बजे अचानक बैठक बुलाई और सुरक्षा की समीक्षा की। शुक्रवार आधी रात से ही निगरानी बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई। पुलिस ने रात होटलों-ढाबों में जांच की और लोगों का रिकार्ड चेक किया गया। इस दौरान कुछ लोग हिरासत में लिए गए हैं। पुलिस अधीक्षकों को किसी भी तरह की अफवाह फैलने की स्थिति में उसे लेकर स्थिति स्पष्ट करने को कहा गया है। थानेदारों को इसके लिए अधिकृत किया गया है। 

नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने की थी स्कूलों में छुट्‌टी की मांग इससे पहले नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा था कि अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाने वाली है। इसे देखते हुए एहतियात के तौर पर देश के कई राज्यों के स्कूलो-कॉलेजों मं छुट्टी का ऐलान किया गया है। इस लिहज से छत्तीसगढ़ के स्कूलों और कॉलेजों में अवकाश घोषित किया जाना चाहिए। छत्तीसगढ़ अनेक मामलों में संवेदनशील प्रदेश है। शिक्षण संस्थानों को अनिवार्य रूप से अवकाश घोषित किया जाना चाहिए। माना जा रहा है कि इसके बाद राज्य सरकार की ओर से इस संबंध में फैसला लिया गया। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें