छत्तीसगढ़ / कोरोना पर मुख्यमंत्री ने कहा- डरने की जरूरत नहीं, पूरे इंतजाम हैं, डॉक्टरों को विशेष भत्ता मिलेगा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च तक अपने सारे सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च तक अपने सारे सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए।
X
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च तक अपने सारे सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च तक अपने सारे सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए।

  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 4 मिनट का वीडियो संदेश जारी किया
  • विदेश से आने वालों के बारे में जानकारी देने की अपील की

दैनिक भास्कर

Mar 19, 2020, 04:06 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को राज्य की जनता के नाम संदेश जारी किया। 4 मिनट के वीडियो में मुख्यमंत्री लोगों को यह भरोसा दिलाते दिखे कि राज्य में कोरोनावायरस से लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। सरकार ने बचाव के लिए पूरे इंतजाम किए हैं। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया इस महामारी से जूझ रही है। राज्य में भी एक मरीज मिला है, उसके परिवार और संपर्क में आए अन्य लोगों की पहचान कर उन्हें आईसोलेशन में रखा गया है। एम्स में योग्य चिकित्सकों की देखरेख में मरीजों को रखा गया है। देश में अनेक लोग ठीक भी हो चुके हैं। 
 

विदेशों से आने वाले जानकारी न छुपाएं 
सीएम ने आगे कहा कि सभी विदेश से आए लोगों की जांच कर आईसोलेशन में रखा जा रहा है। अगर आपकी जानकारी में भी कोई ऐसा व्यक्ति हो जो विदेश से आया हो मगर जांच न करवाई हो, उनके बारे में स्वास्थ विभाग को 104 नंबर पर फोनकर जानकारी दें। जानकारी छुपाने से नहीं बल्कि जानकारी देकर सही बचाव करने से ही हम कोरोना से बचाव कर सकते हैं। बच्चों और बजुर्गों को विशेष ध्यान देने की जरूरत है। 


सभी निगम इलाकों में 144 
सीएम ने वीडियो संदेश में कहा कि लोग बहुत जरूरी होने पर ही बाहर निकलें। मैंने अपने सभी कार्यक्रम बंद कर दिए हैं। राज्य में स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल, मॉल और भीड़ भाड़ वाली जगहों को बंद कर दिया गया है। लोगों की जहां पर भीड़- भाड़ होती थी, ऐसी जगहों पर रोक लगा दी गई है। चिंतित होने की जरूरत नहीं है। मैं आपका मुख्यमंत्री, राज्य सरकार का पूरा महकमा तैयार है। बस आपका सहयोग चाहिए। बचाव और उपचार के लिए सही जानकारी दें। कोरोनावायरस का उपचार का काम कर रहे चिकित्सकों का मैं आभारी हूं। हमने फैसला किया है कि इस काम में लगे स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को विशेष भत्ता दिया जाएगा। 


मंत्रियों के घर नहीं जाएगी जनता, कुछ अफसरों के नई जिम्मेदारी भी 
कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर  मुख्यमंत्री और राज्य के अन्य मंत्री अपने सरकारी निवास में आम लोगों से नहीं मिलेंगे। 31 मार्च तक ऐसे किसी भी कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। आम नागरिकों से अपनी समस्याओं को ई मेल या डाक  से भेजने को कहा गया है। आईएएस अफसर प्रभात मालिक और डी. राहुल वेंकट को विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी स्वास्थ्य विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौपा गया है। राज्य प्रशासनिक सेवा के दीपक अग्रवाल को कोरोना वायरस से संबंधित कार्य के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग मंत्रालय में विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी के रूप में अटैच किया गया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना