पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सुकमा में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी गई; मुख्यमंत्री की आंखें हुईं नम, कहा- नक्सलियों को सफाया करेंगे

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चिंतागुफा क्षेत्र में शनिवार को नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में 17 जवान शहीद हो गए
  • केंद्रीय सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार भी पहुंचे, थोड़ी देर बाद रणनीति को लेकर बैठक होगी
Advertisement
Advertisement

सुकमा. छत्तीसगढ़ के सुकमा में शहीद हुए 17 जवानों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम समेत पुलिस अधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल की आंखें नम हो गईं। उन्होंने कहा कि हमें बड़ा नुकसान पहुंचा है, लेकिन नक्सलियों को जड़ से उखाड़ कर रहेंगे। केंद्रीय सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार भी सुकमा पहुंचे। थोड़ी देर में आगे की रणनीति बनाने को लेकर बैठक शुरू होगी। 

जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी : सीएम

सुकमा में शहीद हुए जवानों के परिजन से बात करते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल।

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद मीडिया से बातचीत में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मैं जवानों के हौसलों को सलाम करता हूं। जब तक नक्सल समाप्त नहीं होता, तब तक लड़ाई जारी रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे जवानों ने उन्हें घेरकर मारा है। ये बात सही है कि हमारे 17 जवान नहीं रहे। बड़ा नुकसान हमको हुआ है, लेकिन नक्सलियों की जड़ उखाड़ कर रहेंगे। हमारी रणनीति में कोई कमी नहीं, कोई इंटेलीजेंस में चूक नहीं हुई है। 


परिजन की आंख से नहीं थम रहे आंसू, आईजी ने शहीदों को दिया कं
धा

शहीद जवानों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

शहीद जवानों के परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है। जवानों की मां, कहीं उनकी पत्नी, बहन, बेटे और भाई को संभालना मुश्किल हो रहा था। एक साथ इतने शव एक साथ पहुंचे तो वहां मौजूद लोगों को धैर्य जवाब दे गया। उनकी आंखों से आंसू बहने लगे। जवानों के शवों को सोमवार सुबह जिला मुख्यालय स्थित पुलिस लाइन लाया गया। यहां पर उन्हें अंतिम सलामी दी गई। वहीं बस्तर आईजी पी. सुंदरराज समेत पुलिस के उच्चाधिकारियों ने शहीद जवानों को कंधा दिया। 

सर्चिंग अभियान पर निकले थे 550 जवान
सुकमा के मिनपा में शुक्रवार को सीआरपीएफ, एसटीएफ और डीआरजी के करीब 550 जवान सर्चिंग के लिए निकले थे। जवानों को नक्सलियों के सक्रिय टॉप लीडर हिड़मा, नागेश और अन्य के कैंप लगाने का इनपुट मिला था। जवान शनिवार को सर्चिंग से लौट रहे थे, इसी दौरान नक्सलियों के एंबुश में फंस गए। जवानों और नक्सलियों के बीच करीब 5 घंटे तक मुठभेड़ चलती रही। इसके बाद नक्सली वहां से भाग निकले। मुठभेड़ में 17 जवान लापता थे। रविवार सुबह फोर्स ने लापता जवानों की बॉडी रिकवर की।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement