छत्तीसगढ़  / केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर बोले- यस बैंक के किसी खाताधारक का पैसा डूबने नहीं देंगे; टैक्सपेयर चार्टर लाने की तैयारी

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर का रायपुर पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत।
X

  • केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री ने कहा- गड़बड़ी करने वाले सलाखों के पीछे हैं, हम बैंक और खाताधारक दोनों को बचाने में लगे
  • कुछ लोगों सिर्फ राजनीतिक कारणों से असत्य बोल रहे हैं, वे लोग खाता धारकों और देश का नुकसान कर रहे हैं

दैनिक भास्कर

Mar 09, 2020, 06:29 PM IST

रायपुर. केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने भरोसा दिलाया है कि यस बैंक के किसी खाताधारक का पैसा डूबने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि हम बैंक और खाताधारक दाेनों को बचाने में लगे हुए हैं। इसके लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गड़बड़ी करने वाले सलाखों के पीछे हैं। अभी कई और अहम खुलासे होने बाकी हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग राजनीतिक कारणों से झूठ फैला रहे हैं। वह खाताधारकों के साथ देश का भी नुकसान कर रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ठाकुर सोमवार को एक दिवसीय दौरे पर रायपुर पहुंचे थे। 

मीडिया से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि आरबीआई से पूरी जानकारी मांगी गई है। देश का पैसा कोई लूटेगा तो उस पर कार्रवाई होगी। साथ ही सीबीआई अपना काम कर रही है। उनके और परिवार के विदेश जाने पर लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। ईडी और सीबीआई ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है। प्रमोटर गिरफ्तार हुए हैं। उन्होंने कहा कि जो कदम एसबीआई के माध्यम से उठाने हैं, उसे भी शुरू कर दिया है। ये कदम बैंक और उसके खाताधारक को बचाने के लिए हैं। 

सरकार के कदम भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी की अोर ले जा रहे
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि देश में टैक्सपेयर चार्टर लाने की तैयारी की जा रही है। ये दुनिया के कई देशों में है। उन्होंने कहा कि महंगाई को कम करने के लिए सरकार ने फिजिकल डिस्प्लेन को मेंटेन कर के रखा है। यूपीए सरकार में महंगाई 12 प्रतिशत थी, जिसे 5 वर्षों में 4 फीसदी किया गया। उन्होंने कहा कि फॉरेन रिजर्व अाज तक में देश के पास सबसे ज्यादा है। एफडीआई भी सबसे ज्यादा आई है। केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि ये सारे कदम भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाएंगे। 

टैक्स देने वालों की मदद करेगा टैक्सपेयर चार्टर

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट 2020 में इसकी घोषणा की थी। यह लोगों को आयकर विभाग से समयबद्ध तरीके से सेवाएं प्राप्त करने में मदद करेगा। इस चार्टर को बहुत जल्द अधिसूचित किया जाएगा। इसके एक बार लागू हो जाने के बाद भारत इस तरह की कर व्यवस्था अपनाने वाला दुनिया का 'तीसरा या चौथा देश होगा। यह चार्टर प्रशासनिक प्रणाली का हिस्सा होगा। यह करदाता को सशक्त करेगा। अभी अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा में टैक्सपेयर चार्टर लागू है। 


विवाद से विश्वास स्कीम
केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने बताया कि सरकार कर दाताओं के लिए विवाद से विश्वास की स्कीम लेकर आई है। इसके तहत 31 मार्च तक कोई भी करदाता अपने बकाए का टैक्स जमा कर सकता है। इसके बाद 10 फीसदी का ब्याज देना होगा। उन्होंने कहा कि कर विवाद के मामले वर्षों से लंबित पड़े रहते थे। जिन्हें अलग-अलग चरणों से गुजरना पड़ता था। इसका खामियाजा करदाता को भी उठाना पड़ता। अब 5 करोड़ तक के जो भी केसेज अपील में जहां भी पेंडिंग हैं, उसे भी सेटेल कर सकते हैं। 

दावा वित्तीय वर्ष 2020-21 में भारत की ग्रोथ रेट होगी 6 फीसदी
इससे पहले केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने एक होटल में व्यपारियों और उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए दावा किया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में भारत की ग्रोथ रेट 6 प्रतिशत होगी। वैश्विक निकाय आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन ने मार्च 2020 में समाप्त हो रहे वित्तीय वर्ष में जीडीपी 4.9 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है। जीएसटी में बदलाव लाने का काम केंद्र सरकार नहीं, जीएसटी काउंसिल करती है। हमने 25 हजार करोड़ का फंड बनाया है। 4 महीनों में 1 लाख करोड़ से ज्यादा जीएसटी का कलेक्शन हुआ है। 

आयकर छापों की जानकारी किसी को नहीं होती, फिर केंद्रीय मंत्री हो या मुख्यमंत्री
छत्तीसगढ़ में आयकर छापों पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि किसी भी व्यक्ति के खिलाफ इनकम टैक्स कोई कार्रवाई करता है तो पूरी जानकारी के बाद ही करता है। इनकम टैक्स चोरी देश के साथ अन्याय है। जो गलत करता है, उसके खिलाफ कार्रवाई होती है। छापामारी विभाग के अधिकारियों का काम है। यदि सैकड़ों करोड़ की कर चोरी पकड़ी जाती है तो प्रश्न चिन्ह खड़ा होता है। उन्होंने कहा कि आयकर छापों की जानकारी किसी को नहीं होती, फिर चाहे वह केंद्रीय मंत्री हो या फिर मुख्यमंत्री।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना