छत्तीसगढ़  / 34 सीटों पर होगा त्रिकोणीय मुकाबला, बाकी पर चेहरे का चुनाव, जोगी फैक्टर भी बिगाड़ेगा खेल



Chhattisgarh Election: 34 seats will be tri-match, face selection on rest
X
Chhattisgarh Election: 34 seats will be tri-match, face selection on rest

  • भाजपा के 1, कांग्रेस के 18 सीटों पर नाम नहीं,  68 सीटों पर तीनों दलों के चेहरे तय
  • साफ होने लगी सीटों की तस्वीर, 56 पर सीधा मुकाबला तो 50 में जाति का फैक्टर 
  • 20 सीटों पर दोनों दलों से पुराने प्रत्याशी, टिकट वितरण के बाद चुनौतियां भी अलग 

Dainik Bhaskar

Oct 31, 2018, 10:15 AM IST

 

रायपुर.  भाजपा ने रायपुर उत्तर तो कांग्रेस ने अभी भी 18 सीटों पर नाम तय नहीं किए हैं, लेकिन प्रदेश की 90 सीटों के समीकरण लगभग साफ हो गए हैं। करीब 34 सीटों पर त्रिकोणीय संघर्ष की स्थिति बन रही है। 50 सीटों पर जातिगत समीकरण हावी रहेगा। इनमें एससी, एसटी के साथ ओबीसी वर्ग बड़ा फैक्टर होगा। 

 

60 पर सीधा मुकाबला होगा, जहां कांग्रेस-भाजपा के प्रत्याशी ही आमने-सामने होंगे। यानी यहां चेहरों का चुनाव होगा। 20 से अधिक सीटों पर दोनों ही दलों ने पुराने प्रत्याशियों को रिपीट किया है। 17 सीटें ऐसी हैं, जहां महिला और पुरुष प्रत्याशियों के बीच मुकाबला है। चार सीटों पर महिलाएं आमने-सामने होंगी। 

 

18 सीटों पर 12 नवंबर को और 72 सीटों पर 20 नवंबर को वोटिंग होनी है। इस बार भाजपा-कांग्रेस के अलावा जोगी-कांग्रेस और बसपा का गठबंधन बड़ा फैक्टर होगा। गठबंधन के प्रत्याशी दोनों ही दलों के लिए रोड़ा बनेंगे। ये चुनाव पिछले चुनावों की तुलना में इसलिए भी अलग होगा। 

 

इस बार दोनों ही बड़े दलों के कुछ नेता अन्य दलों से मैदान में हैं। टिकट वितरण के बाद विरोध के स्वर तेज होने लगे हैं। कई सीटों पर पैराशूट प्रत्याशियों के विरोध में स्थानीय नेता इस्तीफा देकर निर्दलीय उतरने की चेतावनी भी दे चुके हैं। ऐसे में दोनों ही दलों को अपने इन कार्यकर्ताओं और नेताओं को मनाना भी बड़ी चुनौती बन गई है। 

 

इन सीटों पर महिलाओं के बीच मुकाबला  यहां महिलाओं के सामने पुरुष मैदान में 

नगरी सिहावा, दुर्ग-शहर, दुर्ग-ग्रामीण, तखतपुर 

खल्लारी, कसडोल, मरवाही, अकलतरा, चंद्रपुर, पामगढ़, सारंगढ़, धरमजयगढ़, लुंड्रा, भटगांव, बैकुंठपुर, भरतपुर-सोनहत 

 

इन सीटों पर जातिगत समीकरण 

 

विधानसभा क्षेत्र  स्थिति विधानसभा क्षेत्र  स्थिति
धरमजयगढ़  कांग्रेस से विधायक लालजीत सिंह राठिया। भाजपा से युवा नेत्री लीनव राठिया मैदान में। जातिगत फैक्टर काम करेगा।  नगरी सिहावा भाजपा की पिंकी शाह और कांग्रेस की लक्ष्मी ध्रुव भिड़ेंगी। कंवर वोटर निर्णायक। पिछली बार गोंगपा ने खेल बिगाड़ा था। 
मोहला मानपुर कांग्रेस से इंदरशाह मंडावी और भाजपा से कंचनमाला भूआर्य। दोनों ही नए चेहरे। शाह परिवार का दबदबा।  सरायपाली  जातिगत समीकरण को ध्यान में रखकर भाजपा ने गाड़ा समाज के श्याम तांडी को और कांग्रेस ने किस्मतलाल नंद को उतारा है। 
कुनकुरी  भाजपा से आदिवासी नेता भरत साय और कांग्रेस से उत्तमदान मिंज। ईसाई वोटरों के अलावा जातिगत फैक्टर हावी।  खुज्जी  साहू वोटरों की अधिकता, इसलिए कांग्रेस ने छन्नी साहू और भाजपा ने हिरेंद्र साहू को उतारा। दोनों ही नए चेहरे। 
खल्लारी  साहू और यादव वोटर ज्यादा, इसलिए भाजपा ने नए चेहरे मोनिका साहू को, कांग्रेस ने द्वारिकाधीश यादव को उतारा।  केशकाल  कांग्रेस से संतराम नेताम के मुकाबले भाजपा ने नेताम समाज से हरिशंकर को उतारा है। जातिगत वोट ही परिणाम तय करेंगे। 
चित्रकोट  कांग्रेस से विधायक दीपक बैज और भाजपा से लच्छूराम कश्यप मैदान में। समाज के वोटरों को साधना दोनों की चुनौती।  बीजापुर मंत्री महेश गागड़ा तीसरी बार मैदान में। कांग्रेस से विक्रम मंडावी। दोनों दलों में अंतर्विरोध। जातिगत फैक्टर अहम। 
डोंगरगढ़ कांग्रेस से भुनेश्वर बघेल, भाजपा से विधायक सरोजनी बंजारे। समाज के वोटर दोनों का भविष्य तय करेंगे।  खैरागढ़

लोधी बहुल सीट। कांग्रेस के गिरवर जंघेल और भाजपा के कोमल जंघेल में फिर टक्कर। समाज के वोट निर्णायक। 

दुर्ग शहर

भाजपा से चंद्रिका चंद्राकर और कांग्रेस से अरुण वोरा मैदान में। कुर्मी वोटर निर्णायक होंगे। 

दुर्ग ग्रामीण

भाजपा से जागेश्वर साहू तो कांग्रेस से प्रतिमा चंद्राकर मैदान में। कुर्मी व साहू वोटों का ध्रुवीकरण। 

मुंगेली

 मंत्री पुन्नूलाल मोहले के विरोध में कांग्रेस से फ्रेश चेहरा राकेश पात्रे। अजा वोटर निर्णायक। 

डोंगरगांव

पूर्व सांसद मधुसूदन यादव भाजपा से तो दलेश्वर साहू कांग्रेस से। साहू, यादव समाज को साधना चुनौती। 

बेलतरा

भाजपा से रजनीश सिंह, कांग्रेस से राजेंद्र साहू मैदान में। साहू और सवर्ण वोटर ज्यादा।

कटघोरा

परंपरागत सीट पर भाजपा से लखन देवांगन, कांग्रेस से पुरुषोत्तम कंवर। कंवर वोटर निर्णायक।

भरतपुर सोनहत

भाजपा से विधायक चंपादेवी पावले और कांग्रेस से गुलाब सिंह कमरो। जातिगत फैक्टर हावी। 

आरंग भाजपा से संजय ढीढी, कांग्रेस से शिव डहरिया मैदान में। दोनों पर समाज के वोट हथियाने का दबाव। 
रामपुर  भाजपा से ननकीराम कंवर, कांग्रेस से श्यामलाल कंवर भिड़ेंगे। कंवर समाज के वोटों से ही हार-जीत।     
इनके अलावा भानुप्रतापपुर में कांग्रेस के मनोज मंडावी-भाजपा से देवलाल दुग्गा। अंतागढ़ में कांग्रेस के अनूप नाग, भाजपा के विक्रम उसेंडी, बिंद्रानवागढ़ में भाजपा के डमरूधर पुजारी, कांग्रेस से संजय नेताम और सीतापुर में कांग्रेस से अमरजीत भगत, भाजपा से गोपाल भगत भिड़ेंगे। 

 

इन सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला 
 

विधानसभा क्षेत्र स्थिति विधानसभा क्षेत्र  स्थिति
अहिवारा  भाजपा से सांवलाराम डाहरे। कांग्रेस से रूद्र गुरू। बसपा से डॉ. शोभाराम बंजारे। रूद्र गुरू का विरोध। दोनों दलों में भितरघात।  कवर्धा  भाजपा से अशोक साहू। कांग्रेस से मो.अकबर। जोगी कांग्रेस से अगमदास। साहू निर्णायक। सीएम का प्रभाव क्षेत्र। 
बिल्हा  भाजपा से धरमलाल कौशिक। कांग्रेस से विधायक रहे सियाराम कौशिक जोगी कांग्रेस से। कौशिक वोटर निर्णायक।  तखतपुर भाजपा से हर्षिता पांडेय। कांग्रेस से डॉ. रश्मि सिंह। बसपा से संतोष कौशिक। टिकट कटने से राजू सिंह क्षत्री नाराज। भितरघात का डर। 
मस्तूरी भाजपा से डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी। कांग्रेस ने फिर दिलीप लहरिया। बसपा से जयेन्द्र पाटले। अजा वोट बंटेंगे। दूसरे समाज के वोटर निर्णायक।  लोरमी  भाजपा से तोखन साहू। कांग्रेस से शत्रुघ्न चंद्राकर। जोगी कांग्रेस से धर्मजीत सिंह। कांग्रेस-जोगी कांग्रेस के वोट बंटेंगे। 
जांजगीर-चांपा भाजपा से नारायण चंदेल। कांग्रेस से मोतीलाल देवांगन। बसपा से व्यासनारायण कश्यप। कश्यप भाजपा का वोट काटेंगे।  पामगढ़ भाजपा से अंबेश जांगड़े। कांग्रेस से गोरेलाल बर्मन। बसपा से इंदू बंजारे। अजा वोट बंटेंगे। दूसरे समाज के वोटर तय करेंगे परिणाम।
सारंगढ़ भाजपा से केराबाई मनहर। कांग्रेस से उत्तरी जांगड़े। बसपा से अरविंद खटकर। कांग्रेस को भितरघात, बसपा से नुकसान।  पाली-तानाखार भाजपा से रामदयाल उइके। कांग्रेस से मोहित केरकेट्‌टा। गोंगपा से हीरा सिंह मरकाम। प्रत्याशी की छवि, दलों के कैडर वोट निर्णायक।
सामरी भाजपा से सिद्धनाथ पैकरा। कांग्रेस से चिंतामणी महाराज। बसपा से आनंद कुमार तिग्गा। आदिवासी ईसाई वोटर निर्णायक।  लुंड्रा भाजपा से विजय नाथ सिंह। कांग्रेस से डॉ. प्रीतम राम। बसपा से माया भगत। प्रत्याशी की छवि के आधार पर मतदान। 
जशपुर भाजपा से गोविंद राम। कांग्रेस से विनय भगत। बसपा से गगनमणी भगत। संघ और राजपरिवार के रुख से परिणाम।  रायपुर ग्रामीण भाजपा से नंदे साहू। कांग्रेस से सत्यनारायण शर्मा। जोगी कांग्रेस से ओपी देवांगन। ओपी के चुनाव लड़ने से शर्मा को नुकसान। 
अभनपुर भाजपा से चंद्रशेखर साहू। कांग्रेस से धनेंद्र साहू। जोगी कांग्रेस से दयाराम निषाद। साहू समाज का रुख निर्णायक।  भाटापारा भाजपा से शिवरतन शर्मा। कांग्रेस से सुनील माहेश्वरी। जोगी कांग्रेस से चैतराम साहू। साहू समाज निर्णायक भूमिका में। 
महासमुंद कांग्रेस से विनोद चंद्राकर। भाजपा से पूनम चंद्राकर। निर्दलीय डॉ. विमल चोपड़ा। चंद्राकर वोट बंटेंगे। कांग्रेस में भितरघात।  कोंटा

कांग्रेस से कवासी लखमा। भाजपा से धनीराम बारसे। सीपीआई से मनीष कुंजाम। उम्मीदवारों की एप्रोच का असर। 

 

यहां चेहरे पर चुनाव 

विधानसभा क्षेत्र स्थिति विधानसभा क्षेत्र  स्थिति
भिलाईनगर भाजपा से मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय का मुकाबला कांग्रेस के देवेंद्र यादव से। यूपी-बिहार के वोटर तय करेंगे हार-जीत।  साजा भाजपा से लाभचंद बाफना फिर उम्मीदवार। कांग्रेस से पांच बार के विधायक रविंद्र चौबे से भिड़ेंगे। भाजपा का एक दावेदार निर्दलीय मैदान में। 
कोरबा जयसिंह अग्रवाल कांग्रेस से मैदान में। भाजपा से सांसद बंशीलाल महतो के बेटे विकास उम्मीदवार। धन-बल भी फैक्टर होगा।  प्रतापपुर भाजपा के रामसेवक पैकरा और कांग्रेस से प्रेमसाय सिंह पुराने प्रतिद्वंद्वी। एसटी सीट, लेकिन फैसला चेहरे पर ही। 
भटगांव भाजपा से रविशंकर त्रिपाठी की पत्नी रजनी फिर से मैदान में। जातिगत फैक्टर को ध्यान में रखकर कांग्रेस ने पारसनाथ राजवाड़े को ही उतारा है।  बैकुंठपुर मंत्री भैयालाल राजवाड़े के मुकाबले कांग्रेस ने अंबिका सिंहदेव को उतारा है। एंटीइन्कंबेंसी का असर दिख सकता है। 
पत्थलगांव भाजपा से शिवशंकर पैकरा, कांग्रेस से रामपुकार सिंह भिड़ेंगे। रामपुकार 7 बार के विधायक हैं। वोटर चेहरा देखकर ही चुनाव करेंगे।  राजिम भाजपा के संतोष उपाध्याय फिर से मैदान में। परंपरागत सीट पर कांग्रेस से अमितेष शुक्ल उम्मीदवार हैं। दोनों में कांटे की टक्कर। 
कांकेर रिटायर्ड अफसर शिशुपाल सोरी कांग्रेस से तो भाजपा से हीरा सिंह मरकाम। दोनों में रोचक मुकाबला। एसटी सीट, लेकिन मुकाबला चेहरों में।  कोंडागांव मंत्री लता उसेंडी कांग्रेस के मोहनलाल मरकाम से हारी थीं। दोनों फिर आमने-सामने। एसटी सीट में चेहरे का चुनाव।
नारायणपुर मंत्री केदार कश्यप के मुकाबले कांग्रेस से उसी समाज के चंदन कश्यप मैदान में। जातिगत फैक्टर हावी, चेहरे का चुनाव। एंटी इन्कंबेंसी भी।  जगदलपुर कांग्रेस से रेखचंद जैन और भाजपा से विधायक संतोष बाफना। दोनों जैन। व्यापारी वर्ग में पकड़ ही जीत दिलाएगी। 
बस्तर

कांग्रेस से लखेश्वर बघेल और भाजपा से सुभाऊ कश्यप फिर भिड़ेंगे। जाति का कार्ड चलेगा, लेकिन ग्रामीण क्षेत्र में विकास प्रमुख मुद्दा। 

रायपुर पश्चिम

कांग्रेस के विकास उपाध्याय दूसरी बार मंत्री राजेश मूणत का सामना करेंगे। पिछली बार मूणत काफी कम अंतर से जीते थे। 

 

इन हाईप्रोफाइल सीटों पर रहेगी प्रदेश की नजर 

 

विधानसभा सीट स्थिति
राजनांदगांव मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का मुकाबला अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करूणा शुक्ला से। करूणा के सामने सीएम से ज्यादा कार्यकर्ताओं को साथ लेकर चलने की चुनौती। 
सक्ती कांग्रेस के दिग्गज नेता डॉ. चरणदास महंत 25 साल बाद विधानसभा चुनाव मैदान में। सीएम के दावेदार, इसलिए हाईप्रोफाइल सीट। उनके मुकाबले भाजपा से पूर्व मंत्री मेघाराम साहू। चेहरे से हार-जीत। 
अंबिकापुर तीसरी बार कांग्रेस के टीएस सिंहदेव और भाजपा के अनुराग सिंहदेव आमने-सामने होंगे। भाजपा को अनुराग के युवा चेहरे से उम्मीद, लेकिन टीएस के लोगों से जुड़ाव का फायदा कांग्रेस को मिलेगा। 
पाटन पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के मुकाबले भाजपा ने मोतीराम साहू को उतारा है। साहू और कुर्मी वोटरों के समीकरण पर निर्भर होगा परिणाम। जोगी कांग्रेस की शकुंतला साहू से बंटेंगे साहू वोट। 
मरवाही जोगी कांग्रेस के सुप्रीमो अजीत जोगी के मुकाबले बाकी उम्मीदवार गौण साबित होंगे, लेकिन पोर्ते परिवार से उतरी भाजपा की अर्चना पोर्ते और कांग्रेस के गुलाब सिंह राज मुश्किलें खड़ी करेंगे। 
  • कलेक्टरी छोड़ चुनाव लड़ रहे ओपी चौधरी और उमेश पटेल के बीच मुकाबले के कारण खरसिया, अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी के कारण अकलतरा, दिलीप सिंह जूदेव की बहू संयोगिता सिंह जूदेव के कारण चंद्रपुर, अमित जोगी के कारण मनेंद्रगढ़ और विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल के कारण कसडोल सीट में भी हाई प्रोफाइल मुकाबला होगा।

 

भास्कर टीम: पी. श्रीनिवास राव, राकेश पाण्डेय, कौशल स्वर्णबेर, मनोज व्यास 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना