--Advertisement--

छत्तीसगढ़  / छत्तीसगढ़ में 83 सीटों पर भाजपा को सपोर्ट करेगी आरपीआई, 7 पर खुद लड़ रही



केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले
X
केंद्रीय मंत्री रामदास अठावलेकेंद्रीय मंत्री रामदास अठावले
  • आरपीआई प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले बोले- जोगी-बसपा गठबंधन का फायदा भाजपा को
  • नक्सलियों से मुख्यधारा में लौटने की अपील, कहा-मेन स्ट्रीम में आइए, अादिवासियों के लिए मिलकर करेंगे काम

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 10:33 AM IST

रायपुर. केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री और रिपब्लिकल पार्टी आॅफ इंडिया (आरपीआई) के प्रमुख रामदास अठावले ने बताया कि छत्तीसगढ़ में उनकी पार्टी 90 में से 7 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। बाकी की 83 सीटों पर वो भाजपा काे सहयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जोगी कांग्रेस और बसपा के गठबंधन का फायदा भाजपा को मिलेगा। केंद्रीय राज्यमंत्री अठावले गुरुवार को राजधानी रायपुर में मीडिया से बात कर रहे थे। 

 

केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री अठावले ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के काम की तारीफ की। उन्होंने कहा कि रमन सिंह ने बेहतर काम किया है। प्रदेश आगे बढ़ रहा है। हम साथ चलेंगे, सहयोग से जनाधार मजबूत होगा और काम बेहतर होंगे। 

 

अठावले ने नक्सल घटना पर दुख जताते हुए नक्सलियों से अपील की कि हिंसा से कोई समाधान नहीं निकलता है। उन्होंने नक्सलियों से कहा कि जंगलों में क्यों रहते हो, गांव में रहो, शहर में रहो. मेन स्ट्रीम में आइए। आदिवासियों के लिए हम मिलकर काम करेंगे। 

 

नक्सल हमले पर दुख जताते हुए उन्होंने नक्सलियों से मुख्यधारा में जुड़ने की अपील की। अठावले ने नक्सलियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि नक्सलियों को खुद को आंबेडकरवादी बोलने का हक नहीं है क्योंकि अगर आप आंबेडकरवादी है तो आपको नक्सलवाद छोड़ना होगा। 

 

अयोध्या विवाद पर बोले- वहां ताे बौद्ध मंदिर

केंद्रीय मंत्री अठावले ने अयोध्या विवाद पर नया दावा ठोंक दिया है। राम  जन्मभूमि और मस्जिद विवाद पर उन्होंने कहा कि कुछ हमारे बुद्धिस्ठों की याचिका सुप्रीम कोर्ट में है। उन्होंने दावा किया है कि असली जमीन के मालिक वो हैं। उन्होंने कहा कि जब ढाई हजार साल पहले सम्राट अशोक के बाद सारा देश बुद्धिष्ठ था तो वहां बुद्ध का मंदिर था। 

 

उन्होंने यहां तक कहा कि सम्राट अशोक के समय अयोध्या में बुद्ध का मंदिर था। अभी भी वहां खुदाई में बुद्ध के अवशेष मिलेंगे। हालांकि केंद्रीय मंत्री अठावले ने कहा कि अभी सुप्रीम कोर्ट का फैसला जनवरी में आएगा। कानून में हाथ लेकर मंदिर बनाना ठीक नहीं है.

 

 

वैसे वहां हिंदुओं के लिए राम मंदिर तो बनना ही चाहिए और मुस्लिमों के लिए मस्जिद भी बननी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट का फैसला क्या आता है उसी के आधार पर तय होगा कि क्या बनेगा। रामदास अठावाले ने नया दांव चलते हुए कहा कि वैसे तो कई सारे लोग दावा कर रहे हैं, लेकिन वहां तो हमारे बुद्ध का मंदिर था। 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..