छत्तीसगढ़ / राज्य सरकार ने केंद्र से कहा- भीमा मंडावी हत्याकांड में एनआईए जांच पर करें पुर्नविचार



chhattisgarh government wrote letter to the central govt - reconsider the NIA probe in Bhima Mandavi massacre
X
chhattisgarh government wrote letter to the central govt - reconsider the NIA probe in Bhima Mandavi massacre

  • केंद्रीय गृह सचिव को पत्र लिखकर राज्य की ओर से न्यायिक जांच कराने की बात कही
  • एनआईए ने शुरू की तैयारी, पर 15 दिन बीतने के बाद भी राज्य ने नहीं सौंपी फाइल

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2019, 03:30 PM IST

रायपुर. भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या मामले में राज्य की कांग्रेस सरकार और केंद्र सरकार के मतभेद उभर आए हैं। एक ओर जहां राज्य सरकार ने विधायक हत्याकांड में न्यायिक जांच कराने की बात कही है, वहीं केंद्र सरकार ने एनआईए (राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी) को जांच के निर्देश दे दिए हैं। ऐसे में अब राज्य सरकार ने केंद्र को कहा है कि वो एनआईए जांच पर पुर्नविचार करे। बस्तर के दंतेवाड़ा से भाजपा विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों ने  आईईडी ब्लास्ट कर हत्या कर दी थी। 

 

जानकारी के मुताबिक, छत्तीसगढ़ शासन ने केंद्रीय गृह सचिव को पत्र लिखकर एनआईए जांच पर पुनर्विचार का आग्रह किया है। राज्य सरकार ने विधायक भीमा मंडावी की हत्या मामले में न्यायिक जांच का हवाला दिया। वहीं, दूसरी ओर एनआई को केंद्र सरकार से जांच के निर्देश प्राप्त हो गए हैं। एजेंसी ने जांच की तैयारी भी शुरू कर दी। हालांकि 15 दिन बीत जाने के बाद भी राज्य शासन ने भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या का मामले की फाइल एनआईए को नहीं सौंपी है।


नक्सलियों ने मतदान से दो दिन पहले की थी हत्या
बस्तर से भाजपा के एकमात्र विधायक भीमा मंडावी की लोकसभा चुनाव के दौरान मतदान से ठीक दो दिन पहले 9 अप्रैल को नक्सलियों ने हत्या कर दी थी। कुआकोंडा थाना इलाके के श्यामागिरी में आईईडी लगाकर विस्फोट किया था। चुनावी सभा से लौट रहे मंडावी इसकी चपेट में आ गए। जिसके चलते इस हमले में भाजपा विधायक और उनके ड्राइवर की जान चली गई थी और 3 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना