पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

डॉ रमन के क्षेत्र से जीता कांग्रेस का युवा प्रत्याशी, पूर्व में रह चुका है भाजपा कार्यकर्ता

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह- फाइल फोटो
  • छत्तीसगढ़ में हुए 151 नगरीय निकायों में चुनाव
  • जानिए दिग्गज राजनीतिक हस्तियों क्षेत्रों में कैसा रहा नतीजों का हाल
  • मुख्यमंत्री और गृहमंत्री के क्षेत्र में कांग्रेस जीतने में रही कामयाब
Advertisement
Advertisement

रायपुर.छत्तीसगढ़ में नगरीय निकायों में पंचायत, नगर पालिकाओं और निगमों के नतीजे आ रहे हैं। कुछ जगहों पर सियासी स्थिति साफ हो चुकी है। 15 सालों तक प्रदेश में सरकार चलाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री के इलाके में भारतीय जनता पार्टी को जीत नहीं मिली। यहां से पिछले दो निगम चुनावों में भाजपा के ही प्रत्याशी जीत रहे थे। इस बार कांग्रेस ने महज 25 साल के युवक सुनील साहू को टिकट दिया। भाजपा के मौजूदा पार्षद रतन साहू से इनका मुकाबला था। सुनील को जीत मिली है। डॉ रमन सिंह, के अलावा पूर्व सांसद अभिषेक सिंह भी इसी इलाके से वोटर हैं। 

भाजपा से की थी बगावत
सुनील पूर्व में भाजपा के ही कार्यकर्ता थे। कभी डॉ रमन सिंह की छत्रछाया में ही अपनी सियासी पारी की शुरूआत की थी। पिछले विधानसभा चुनावों में भाजपा ने इस युवा की अंदेखी की। नाराज होकर सुनील ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। कवर्धा दौरे के दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी की मौजूदगी में सुनील ने कांग्रेस का दामन थामा था। पूरी कवर्धा नगर पालिका की स्थिति ऐसे समझिए कि यहां के कुल वार्डों में 19 में कांग्रेस, 6 में भाजपा और 2 में निर्दलीय पार्षद जीतकर आएं हैं। 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के क्षेत्र का हाल 
प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का क्षेत्र पाटन दुर्ग जिले के तहत आता है। पाटन नगर पंचायत में कांग्रेस ने 12 वार्ड, भाजपा ने 2 और निर्दलीय उम्मीदवार ने 1 वार्ड में जीत हासिल की है। इससे लगे क्षेत्र  उतई नगर पंचायत का इलाका प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का है। यहांद कांग्रेस ने 9, भाजपा ने 2, निर्दलीय ने 4 वार्ड जीते हैं। दुर्ग नगर निगम में कांग्रेस ने 28 वार्डों में जीत दर्ज कर ली है। वहीं भाजपा को 14 सीटें ही मिल सकी है। 11 वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशी जीत चुके हैं। 7 वार्डों में अब भी मतगणना हो रही है। 

मोहन मरकाम के इलाके में भाजपा का झंडा बुलंद 
कोंडागांव शहर के जिस वार्ड में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम रहते हैं। वहां से कांग्रेस के प्रत्याशी को जीत मिली है, मगर पूरे क्षेत्र में उन्होने कांग्रेस के प्रत्याशियों के लिए प्रचार किया, जिसका असर नतीजों पर नहीं दिखा। यहां कोंडागांव नगर पालिका परिषद के लिए हुए चुनावों में भाजपा को 14 वार्ड,कांग्रेस को सिर्फ 8 वार्ड में ही जीत मिल पाई। नगर पंचायत  केशकाल में कांग्रेस को 7, भाजपा को 6 और दो निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं। फरसगांव नगर पंचायत में भाजपा के 8, कांग्रेस के 6 और एक निर्दलीय प्रत्याशी को जीत मिली। 

भाजपा अध्यक्ष के क्षेत्र का हाल 
अंतागढ़ इलाके से अपनी सियासी पारी खेलने वाले भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष विक्रम उसेंडी का प्रभाव कुछ खास नहीं दिखा। यहां नगर पंचायत चुनाव में  भाजपा 7,  कांग्रेस ने 5 और निर्दलीय प्रत्याशियों ने 3 वार्ड जीत लिए मगर बहुमत किसी के पास नहीं है। भाजपा को अगर एक निर्दलीय समर्थन करता है तो नगर पंचायत में पहली बार भाजपा का कब्जा हो सकता है। दूसरी ओर तीनों निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव जीतकर अंतागढ़ से कांग्रेस के विधायक अनूप नाग से मिलने पहुंच गए। यहां नए सियासी समीकरण की ओर इशारा कर रहा है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement