शीतकालीन सत्र / स्कूल में बच्चे पढ़ेंगे संविधान का पाठ, मंत्री बोले- सूपेबेड़ा में हुई मौतें सिर्फ किडनी रोग की वजह से नहीं 

छत्तीसगढ़ विधानसभा (फाइल फोटो) छत्तीसगढ़ विधानसभा (फाइल फोटो)
X
छत्तीसगढ़ विधानसभा (फाइल फोटो)छत्तीसगढ़ विधानसभा (फाइल फोटो)

  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चों को संविधान की जानकारी देने के कार्यक्रम की घोषणा की 
  • स्वास्थ मंत्री टी एस सिंहदेव ने सूपेबेड़ा में होने वाली मौतों पर दिया बयान 
  • अजय चंद्राकर ने कांग्रेस सरकार की कैबिनेट को बताया अवैधानिक, मचा हंगामा 
  • 4546 करोड़ के अनुपूरक बजट पर भी हुई चर्चा 

दैनिक भास्कर

Nov 26, 2019, 07:11 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को एक बड़ी घोषणा सरकार की तरफ से की गई। इसके तहत अब स्कूलों में हर सोमवार बच्चों को संविधान की जानकारी दी जाएगी। असल में मंगलवार को संविधान दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा कि  स्कूलों में प्रार्थना के बाद माह के प्रथम सोमवार को संविधान की प्रस्तावना, द्वितीय सोमवार को नागरिकों को दिए गए मौलिक अधिकारों, तृतीय सोमवार को को मूल कर्तव्यों और चतुर्थ सोमवार को नीति निर्देशक तत्वों का पठन किया जाएगा, जिससे विद्यार्थियों को उनके बारे में जानकारी हो सके। 


हंगामे दार रहा दूसरा दिन 

सदन में मंत्री टीएस सिंह देव ने सूपेबेड़ा में हो रही मौतों पर जवाब दिया।  कांग्रेसी विधायक धनेंद्र साहू ने सवाल किया कि लगभग 71 से अधिक मौत किडनी की बीमारी से होने की जानकारी सामने आई है। इस पर स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि किडनी की बीमारी भी मौत की वजह हो सकती है, लेकिन डॉक्टरी रिपोर्ट में मौत के दूसरे कारण भी है। सिर्फ किडनी की बीमारी ही मौत का कारण नहीं है,  इसे संवेदनशील मुद्दा बताते हुए मंत्री ने कहा कि अब भी वहां 250 से ज्यादा लोग किडनी रोग से पीड़ित हैं, हम व्यवस्था सुधारने प्रयास कर रहे हैं। 
 

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने सरकार की मौजूदा कैबिनेट को अवैधानिक बता दिया। इस पर कांग्रेसी नेताओं हंगामा कर दिया, चंद्राकर कहते रहे कि मैं साबित कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठक में ओएसडी जाते हैं, यह सही नहीं है। इस पर मुख्यमंत्री ने आपत्ती जताई, विधानसभा अध्यक्ष ने भी चंद्राकर को टोका। इसके बाद चंद्राकर ने अपनी बात पर खेद जताया 


अब भी चंद्राकर कुछ कह ही रहे थे कि कांग्रेस से विधायक देवेंद्र यादव ने भी बोलना शुरू कर दिया। इस पर भाजपा से विधायक और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने उन्हें टोका। अग्रवाल ने कहा कि जब सीनियर बात कर रहे हों तो नए सदस्यों को सुनना चाहिए और सीखना चाहिए। देवेंद्र इसपर नहीं रुके, इससे नाराज होकर भाजपा विधायकों ने वॉकआउट कर दिया। 


अनुपूरक बजट पर भी चर्चा 
4546 करोड़ 81 लाख के दूसरे अनुपूरक बजट पर चर्चा की गई।  इस अनुपूरक बजट में सरका 3921 करोड़ के राजस्व व्यय करेगी वहीं 625 करोड़ खर्च कर पूंजी खड़ा करेगी। अनुपूरक बजट में सरकार ने अपने लिए नया जहाज खरीदने 50 करोड़ और हेलिकाप्टर में नया इंजन रिप्लेस करने 425 लाख रुपए का प्रावधान किया है। डा.खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के लिए 90 करोड़ रुपए दिए गए हैं। विशिष्ट व्यक्तियों के उपयोग के लिए 11 कारें खरीदने स्टेट मोटर गैरेज को 258 लाख रुपए,राजभवन के लिए भी वाहन खरीदने 43 लाख और वीआईपी के दिल्ली भ्रमण के लिए दो हल्के वाहन खरीदने 40 लाख रुपए रखे गए हैं। महाधिवक्ता कार्यालय के विधि अधिकारियों , पैनल लायर और निज सहायकों के लिए 117 टैबलेट खरीदने 5 लाख 78 हजार रुपए दिए गए हैं, वगैरह के अन्य खर्च हैं। 
 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना