जागरूकता / अपार्टमेंट में काेरोनाबंदी, दूधवाले से लेकर नौकरों तक को एंट्री नहीं, आना-जाना बंद

पार्श्व विहार, रोहिणीपुरम। पार्श्व विहार, रोहिणीपुरम।
X
पार्श्व विहार, रोहिणीपुरम।पार्श्व विहार, रोहिणीपुरम।

  • एतियातन लोगों ने अपने घरेलू नौकरों तक को छुट्‌टी दे दी
  • सोसायटियों में दूध वाले तक को प्रवेश नहीं दिया जा रहा

दैनिक भास्कर

Mar 25, 2020, 01:52 AM IST

रायपुर . शहर की कुछ बड़ी कालोनियों और सोसाइटियों ने कोरोना को लेकर लॉक डाउन कर दिया है। न तो वहां रहने वाले बाहर जा रहे और न ही किसी को प्रवेश दिया जा रहा है। ऐसी सोसाइटी वाले इतना ज्यादा एहतियात बरत रहे हैं कि उन्होंने अपने घरेलू नौकरों तक को छुट्‌टी दे दी है। दूध वाले तक को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। 


कालोनियों में सुबह और शाम की वॉकिंग बैन कर दी गई है। बच्चों को वहीं कवर्ड कैंपस के गार्डन में भी खेलने नहीं दिया जा रहा है। कालोनी वाले इस ओर भी ध्यान दे रहे हैं कि उनके बीच किसी परिवार में कोई सदस्य विदेश से तो नहीं लौट रहा है। इसकी निगरानी भी सोसाइटी के पदाधिकारियों द्वारा की जा रही है। 


इमरजेंसी में ही बाहर जाने की अनुमति, पर बताना होगा कारण
तेलीबांधा जीई रोड पर स्थित ऐश्वर्या रेसीडेंसी में शुक्रवार से ही लॉक डाउन कर दिया गया है। रेसीडेंस सोसायटी के रहने वाले खुद भी कहीं नहीं जा सकते। बेहद इमरजेंसी में अगर उन्हें कहीं जाना है तो ग्रुप के वाटस्अप ग्रुप में सूचना देनी होगी। विस्तृत कारण बताना पड़ता है कि वे कहां और क्यों जा रहे हैं। उसके बाद ही वे कहीं जा सकते हैं। बाहर से आने वालों में केवल एक नर्स को प्रवेश दिया जा रहा है। सोसायटी में एक मरीज की सेवा के लिए करीब एक साल से नर्स आ रही हैं। इस वजह से बाहरी लोगों में केवल उन्हें ही प्रवेश दिया जा रहा है। सोसायटी में पदाधिकारियों की मौजूदगी में बैठक आयोजित की गई थी। उसी में लॉक डाउन का निर्णय लिया गया। 

सोसाइटी में बाहर वालों की एंट्री बंद, डिलीवरी बॉय भी रोके गए
रोहिणीपुरम गोल चौक के पार्श्व विहार अपार्टमेंट के रहवासियों ने पिछले 4 दिन से अपने आप को लॉकडाउन कर लिया है। सोसाइटी के राजीव लोचन श्रीवास्तव और शिव गुप्ता से बताया कि कोरोना से बचने और इसके संक्रमण को रोकने के लिए सभी रहवासी एकजुट हैं। सभी ने तय किया है कि सोसाइटी से बहुत जरूरी हो तो तभी कोई एक ही बाहर निकले। किसी भी बाहरी व्यक्ति या डिलिवरी मैन को अंदर नहीं आने दिया जा रहा है। सभी को सेनेटाइज किया जा रहा है। गॉर्ड और अन्य कर्मचारियों की भी छुट्टी दे दी गई है।  


हर दिन सोसाइटी को कर रहे सेनिटाइज, गेट पर लगाया ताला
दलदल सिवनी के अवंति गार्डन के रहवासियों ने गेट पर लॉक लगवा दिया है। सोसाइटी के अशोक बिष्ट ने बताया कि बिना किसी आवश्यक कारण के बाहर निकलने की मनाही है। सोसाइटी के अन्य गेट, गार्डन व प्लेइंग एरिया भी लॉक कर दिया गया है। पिछले 4 दिन से सोसाइटी के हर हिस्से सेनिटाइज करवाया जा रहा है। कोरोना से बचने के लिए सोसाइटी का हर रहवासी जागरूक और साथ दे रहा है। कई लोगों ने बाहर से आने वाली घर की बाई और कुक की मनाही कर दी है और उन्हें छुट्टी दे दी गई है।

बच्चे बाहर न निकलें इसलिए पेंटिंग बनवाने में किया बिजी
सड्‌ढू स्थित कैपिटल सिटी फेस-थ्री में भी साेसाइटी वालों ने पूरी तरह से काेरोना बंद कर शासन की मुहिम का सख्ती से पालन शुरू कर दिया है। कालोनी में उन्हीं वाहनों को एंट्री दी जा रही है, जिसमें कालोनी का मोनो लगा है। सोमवार को सोसाइटी वालों ने और सख्त कदम उठाया। बैठक के बाद निर्णय लिया कि अब घरेलू काम करने वाले नौकरों को भी एंट्री नहीं दी जाएगी। कालोनी वालों ने बच्चों को घर के भीतर ही बिजी रखने का भी फार्मूला खोज लिया है। हर बच्चा अपने घर पर पेंटिंग बना रहा है। उस पेंटिंग को कालोनी के एक हिस्से की दीवार में लगा दिया जा रहा है। इसमें भी ये सावधानी बरती जा रही है कि बच्चे एक साथ वहां न जाएं। बच्चों के पैरेंट्स ही पेंटिंग लगा रहे हैं। बाद में पेंटिंग वाली दीवार की फोटो वाट्सअप ग्रुप में शेयर की जा रही है। इससे बच्चे देख रहे हैं कि किसकी पेंटिंग सबसे अच्छी है। इस तरह रोज बच्चों को बिजी रखा जा रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना