राहत / सूखे से परेशान किसानों को मिलेगा 500 क्यूसेक पानी, गंगरेल बांध का एक गेट खोला



dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation
dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation
dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation
X
dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation
dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation
dhamtari news gate of Gangrel Dam opened for drought affected farmers, 500 cusec of water for irrigation

  • प्रदेश के कई जिलों में पर्याप्त बारिश नहीं होने के कारण सूखे जैसे हालात
  • किसानों की मांग के बाद जल संसाधन मंत्री ने की थी पानी देने की घोषणा

Dainik Bhaskar

Aug 17, 2019, 05:11 PM IST

धमतरी. प्रदेश के कई जिलों में सामान्य से भी कम बारिश होने के कारण सूखे जैसे हालात हो गए हैं। ऐसे में सरकार ने किसानों को बड़ी राहत दी है। किसानों को परेशानी से निजात दिलाने के लिए शनिवार को गंगरेल बांध का एक गेट खोल दिया गया है। इस बांध से किसानों को 500 क्यूसेक से ज्यादा पानी सिंचाई के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। किसानों की मांग को देखते हुए जल संसाधन मंत्री ने फसलों के लिए पानी उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। 

रुद्री बैराज से महानदी मुख्य नहर के जरिए खेतों तक पहुंचेगा पानी

  1. दरअसल, बारिश के मौसम में भी पर्याप्त पानी नहीं मिलने के कारण सबसे ज्यादा चिंता धान को लेकर है। इसे देखते हुए जल संसाधन मंत्री रविंद्र चौबे ने आरंग में कर्ज माफी तिहार के दौरान मुख्य अभियंता को निर्देश दिया था। जिसके बाद शनिवार सुबह 9.30 में गंगरेल बांध के 8 नंबर रेडियल गेट को खोल दिया गया है। जहां से प्रारंभिक तौर पर 507 क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज रुद्री बैराज के लिए किया जा रहा है। रुद्री बैराज से महानदी मुख्य नहर के जरिए किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाया जाएगा। 

  2. शनिवार को सुबह 7 बजे गंगरेल बांध में जलस्तर 343. 48 मीटर रिकॉर्ड किया गया था। बाद में 12.350 टीएमसी उपयोगी पानी सहित कुल 17.421 टीएमसी पानी का भराव दर्ज किया गया। बांध में जलभराव की स्थिति पिछले साल से खराब है। आंकड़े पर गौर करें तो 17 अगस्त 2018 को सुबह 7 बजे बांध में 22.834 टीएमसी उपयोगी पानी सहित कुल 27.905 टीएमसी पानी का भराव हो चुका था और जलस्तर 347.44 मीटर दर्ज किया गया था। जबकि करीब 11 टीएमसी पानी इस साल कम है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना