पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पथ संचलन के दौरान गाजीनगर में दो समुदायों के बीच जमकर चले पत्थर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दो समुदायों के बीच हुए पथराव के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ा। - Dainik Bhaskar
दो समुदायों के बीच हुए पथराव के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ा।
  • बवाल : दोनों ओर से पथराव, तोड़फोड़,  निकलीं तलवारें, भारी मात्रा में फोर्स तैनात
  • राजधानी के बिरगांव में धार्मिक स्थल के सामने से निकल रहा था आरएसएस का पथ संचलन

रायपुर. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के पथ संचलन के दौरान रविवार सुबह राजधानी के गाजीनगर में जमकर उपद्रव हुआ। दो पक्ष आमने-सामने हो गए और एक-दूसरे पर पथराव कर दिया। इस दौरान दोनों ओर से तलवारें भी निकल आईं। सूचना मिलते ही आईजी, कलेक्टर, एसपी के साथ ही उरला थाना पुलिस भी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गई। इसके बाद पुलिस ने लाठियां फटकार कर उपद्रवियों को खदेड़ा और पथ संचलन को निकलवाया।

 

1) संघ कार्यकर्ताओं का आरोप, उन्हें अागे बढ़ने से रोका गया

आरएसएस की ओर से रविवार सुबह करीब 8.30 बजे पथ संचलन का कार्यक्रम था। इस दौरान पथ संचलन में शामिल कार्यकर्ता राजधानी के उरला थाना क्षेत्र के गाजीनगर पहुंचे। पथ संचलन धार्मिक स्थल के सामने से पहुंचा ही था कि आगे बढ़ते हुए दो पक्षों के बीच विवाद होने लगा। संघ कार्यकर्ताओं का आरोप है कि उन्हें आगे जाने से रोका गया।

इसके बाद संघ कार्यकर्ताओं ने कॉल कर अपने और भी कार्यकर्ताओं को बुला लिया। इस दौरान दोनों ओर से तलवारें निकल आईं और पथराव शुरू हो गया। हंगामा कर रहे लोगों ने ऑटो और कार में तोड़फोड़ कर दी। करीब आधे घंटे तक दोनों ओर से पथराव होता रहा।

दो पक्षों के बीच उपद्रव की सूचना मिलने पर पुलिस फोर्स के साथ ही आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने किसी तरह लाठी फटकार कर स्थिति को नियंत्रण में लिया। उपद्रव और हंगामे की जानकारी मिलते ही भाजपा जिला अध्यक्ष राजीव अग्रवाल भी पहुंच गए। फिर अधिकारियों ने दोनों पक्षों को समझाइश कर शांत कराया और पथ संचलन को आगे निकाला।

संघ के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पथ संचलन के दौरान वह नारे लगाते हुए जा रहे थे। जब गाजीनगर में एक धार्मिक स्थल के पास पहुंचे तो इस दौरान एक युवक ने उन्हें रोक लिया। आरोप है कि युवक ने उनसे धार्मिक स्थल के सामने नारा लगाने से रोका और कहा कि इस रास्ते पर ऐसा मत बोलो।

 

युवक ने उनसे कहा कि धारा 144 लगी है और आप जुलूस कैसे निकाल सकते हो। इस पर कार्यकर्ताओं की ओर से बताया गया कि उनके पास पथ संचलन की अनुमति है। इसके बाद दोनों ओर से विवाद होने लगा और तलवारें निकल आईं।

इस दौरान पक्षों विशेष के तमाम लोग एकत्र हो गए। यह देखकर संघ कार्यकर्ताओं ने भी साथियों को बुला लिया और दोनों ओर से तलवारें निकलने के बाद पथराव शुरू हो गया। इस पथराव में भूपेंद्र साहू, नारायण सहित अन्य लोग घायल हुए हैं। तनाव को देखते हुए वहां पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें