पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नारायणपुर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, सीएएफ प्रधान आरक्षक समेत 4 घायल

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो।
  • आमदई घाटी की घटना, आयरन माइंस निकलाने के लिए रोड ओपनिंग में लगे थे पुलिसकर्मी
  • अचानक से नक्सलियों ने फायरिंग शुरू की, दो सीएएफ जवानों को लगी गोली, सर्चिंग जारी

जगदलपुर. छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में बुधवार सुबह सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस दौरान छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स (सीएएफ) के प्रधान आरक्षक समेत 4 लोग घायल हुए हैं। 2 जवानों को गोली लगी है। घायलों को उपचार के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुठभेड़ आमदई घाटी में हुई है। घटना की पुष्टि आईजी बस्तर पी. सुंदरराज ने की है। 

ये भी पढ़े
जवानों ने नक्सली कैंप पर धावा बोला, एक घंटे चली मुठभेड़ के बाद जान बचाकर भागे नक्सली
जानकारी के मुताबिक, जायसवाल कंपनी रोड ओपनिंग में लगाई है। जहां आयरन माइंस निकालने के लिए वाहन, जेसीबी और पोकलेन के जरिए रास्ता तैयार किया जा रहा है। आमदई घाटी लौह अयस्क खदान की सुरक्षा में पुलिस बल तैनात है। वहां बुधवार सुबह करीब 10 बजे अचानक पहाड़ों की टेकरी से  नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। इस पर जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की। थोड़ी देर चली मुठभेड़ के बाद नक्सली भाग निकले। 


नक्सली फायरिंग में सीएएफ के प्रधान आरक्षक अंनत भगत, आरक्षक कड़ती काम्या को गोली लगी है। प्रधान आरक्षक के दाएं कंधे व सीने में और आरक्षक की कलाई में गोली लगी है। वहीं फायरिंग के दौरन अफरातफरी मचने से गिरकर हाइवा चालक संजीत शील और पोकलेन चालक अरुण कुमार साहू घायल हो गए हैं। सभी को छोटेडोंगर उपस्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। उनकी स्थिति सामान्य बताई जा रही है। इलाके में सर्चिंग तेज कर दी गई है। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें