छत्तीसगढ़ / डीजी गुप्ता को नोटिस- ईओडब्लू में पदस्थ रेखा नायर को 730 दिन की छुट्टी किस नियम से दी



General Administration Department issued notice to Mukesh Gupta
X
General Administration Department issued notice to Mukesh Gupta

  • रेखा को 12 दिसंबर 2018 से 12 दिसंबर 2020 तक की छुट्टी दी गई थी

Dainik Bhaskar

Feb 16, 2019, 03:39 AM IST

रायपुर .  फोन टेपिंग के आरोपी डीजी  मुकेश गुप्ता को सामान्य प्रशासन विभाग ने नोटिस जारी किया है। गुप्ता से पूछा गया है कि ईओडब्लू में कार्यरत रेखा नायर को 730 दिन की छुट्टी किस नियम से दी गई है। साथ ही रेखा नायर की छुट्टियां भी निरस्त कर दी गई हैं।

 

रेखा को 12 दिसंबर 2018 से 12 दिसंबर 2020 तक की छुट्टी दी गई थी। नियमों के मुताबिक छुट्टी देने का अधिकार प्रशासकीय विभाग को है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा एसीएस गृह आरपी मंडल को डीजी गुप्ता को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिया गया। रेखा नायर बीते 4 साल से ईओडब्ल्यू में पदस्थ थीं। पर किसी कर्मचारी ने उन्हें कभी देखा नहीं था। नायर को नियमित वेतन भुगतान भी होता रहा।

 

रेखा केरल मूल की है। कई दिनों से रेखा प्रदेश में नहीं थीं। 2 दिन पहले उन्होंने नोटिस पर उपस्थित होकर जानकारी दी। पुलिस ने रेखा के रायपुर स्थित मकान की जांच भी की। ईओडब्ल्यू द्वारा की जा रही जांच के दौरान इस बात की चर्चा सुनी गई है कि फोन टेपिंग की जिम्मेदारी रेखा के पास थी। टेपिंग के लिए 7 करोड़ रुपए की दो मशीनें खरीदी गईं। टेपिंग की ट्रेनिंग लेने सरकारी दौरे के नाम पर रेखा को इजराइल भेजा गया। इसे दौरे के संबंध में ईओडब्लू जल्द केंद्रीय गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखेगा।


ननकी ने की थी शिकायत: ईओडब्ल्यू से जुड़े सूत्रों की मानें तो रेखा डीजी मुकेश गुप्ता की पुरानी सहयोगी हैं। गुप्ता जहां-जहां पदस्थ रहे, वहां उनके अधीनस्थ के तौर पर रेखा काम करती रहीं। पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर ने कुछ समय पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से गुप्ता के खिलाफ जांच की मांग कर पत्र लिखा था। पत्र में कंवर ने आरोप लगाया था कि डीजी गुप्ता ने रेखा के नाम पर करोड़ों की बेनामी संपत्ति खरीदी। रेखा के ही जरिए नेताओं, अधिकारियों के फोन इंटरसेप्ट कराए गए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना