छत्तीसगढ़  / नक्सलियों ने टीआरएस के पूर्व विधायक श्रीनिवास राव की हत्या की, तीन दिन पहले अपहरण किया था

jagdalpur news Naxalites killed by kidnapped former MLA and TRS leader Srinivas Rao
X
jagdalpur news Naxalites killed by kidnapped former MLA and TRS leader Srinivas Rao

  • तेलंगाना बॉर्डर पर किस्टराम के एरमपाडू और पुट्‌टापाडू के बीच सड़क किनारे राव का शव फेंका 
  • नक्सलियों ने लगाया पर्चे में राव पर तेलंगाना इंटेलीजेंस के लिए काम करने और मुखबिर बनाने का आरोप लगाया

Jul 13, 2019, 12:48 PM IST

जगदलपुर. तेलंगाना से तीन दिन पहले अपहरण किए गए टीआरएस नेता और पूर्व विधायक श्रीनिवास राव की नक्सलियों ने हत्या कर दी। उनका शव शुक्रवार दोपहर तेलंगाना बॉर्डर पर किस्टराम के एरमपाडू और पुट्‌टापाडू के बीच सड़क किनारे पड़ा मिला। भद्रादरी कोत्तागुडूम जिले के एसपी सुनील दत्त ने कहा कि श्रीनिवास किसानों और ग्रामीणों के लिए अच्छा काम कर रहे थे। उनके हत्यारों को छोड़ा नहीं जाएगा। 

छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर मिली थी आखिरी लोकेशन

नक्सलियों ने विधायक के शव के पास कुछ पर्चे फेंके। इसमें आरोप लगाए कि टीआरएस नेता राव तेलंगाना इंटेलीजेंस के लिए लोगों को मुखबिर बनाने का काम कर रहे थे। राव ने आदिवासियों की 70 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लिया था। वे आम लोगों को नक्सली मामलों में फंसा रहे थे।

रिपोर्ट के मुताबिक- नक्सलियों ने टीआरएस नेता श्रीनिवास राव का अपहरण तेलंगाना के भद्रादी कोठागुड़म जिले में उनके गृहग्राम कोथुर से सोमवार रात किया था। राव की पत्नी दुर्गा राव ने बताया कि एक दर्जन से ज्यादा लोग उनके पति को अगवा करने आए थे।

राव की पत्नी ने बताया कि हमने नक्सलियों से उन्हें छोड़ने की खूब गुहार लगाई मगर वे पूर्व विधायक को मारते रहे। तेलंगाना और छत्तीसगढ़ पुलिस उनकी तलाश में जुटी थी। शुक्रवार को उनकी लाश मिलने के बाद परिवार में शोक छा गया।

टीआरएस नेता की हत्या की जिम्मेदारी नक्सलियों की शबरी एरिया कमेटी की सेक्रेटरी शारदा ने ली। माना जा रहा था कि राव को अपहरण के बाद तेलंगाना से छत्तीसगढ़ लाया गया था। राव की आखिरी लोकेशन भी चंदा-कोट्टापदु के जंगलों में मिली, जो छत्तीसगढ़ के जंगलों से मिला हुआ है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना