कवर्धा / कवर्धा और बेमेतरा के तीन कारोबारियों ने सरेंडर किए 7 करोड़, 1.50 करोड़ टैक्स भी देना होगा



Kawardha and Bemetra's three businessmen surrendered to 7 crore
X
Kawardha and Bemetra's three businessmen surrendered to 7 crore

  • धमतरी में 8 राइस मिल घेरे में, जांजगीर-चांपा में घर जब्त
  • आयकर टीम की चार जिलों में कार्रवाई

Feb 15, 2019, 01:07 AM IST

कवर्धा . आयकर सर्वे के बाद कवर्धा और बेमेतरा के तीन कारोबारियों ने 7.09 करोड़ रुपए सरेंडर कर दिए। बुधवार को कवर्धा सराफा लाइन में अजय बोथरा और संतोष बोथरा की ज्वेलरी शॉप में शुरू हुआ सर्वे गुरुवार शाम 6 बजे पूरा हुआ। 30 घंटे की कार्रवाई के बाद दोनों ने 4.39 करोड़ रुपए की आय सरेंडर की।

 

सराफा व्यवसायी अजय बोथरा ने 3.01 करोड़ और संतोष बोथरा ने 1.38 करोड़ रुपए की आय सरेंडर की। वहीं बेमेतरा में कपड़ा व्यवसायी मालक सिंह सलूजा ने 2.70 करोड़ रुपए की आय सरेंडर की। यहां मंगलवार को कवर्धा आयकर विभाग की टीम सर्वे करने पहुंची थी। व्यापारियों ने कागजात छुपाकर रखे थे जिन्हें खोजने के लिए टीम को मशक्कत करनी पड़ी। तीनों मिलाकर 7.09 करोड़ रुपए की अघोषित आय उजागर हुई। इसके आधार पर फर्मों को 1.50 करोड़ रुपए से अधिक का टैक्स चुकाने का निर्देश भी दिया गया है।

 

धमतरी  राइस मिलों और ज्वेलरी शॉप की जांच में जुटी 40 सदस्यीय टीम : धमतरी में आयकर विभाग की टीमों ने गुरुवार को जिले की आठ राइस  मिलों और कुछ ज्वेलरी शॉप में दबिश दी।  आयकर अधिकारी मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में 40 सदस्यीय टीम ने दोपहर तीन बजे श्याम तराई स्थित विजय एग्रोटेक, विजय राइस मिल धमतरी, अतुल राइस मिल हरफतरई, अतुल राइस चारामा, रत्नाबांधा बर्तन फैक्ट्री, बालाजी राइस मिल कुरुद में एक साथ दबिश दी।

 

आय और आयकर से संबंधित दस्तावेज खंगाले। जो दस्तावेज नहीं थे, कारोबारियों को उपलब्ध कराने के लिए कहा। अफसरों के मुताबिक सर्वे के सभी मामलों का खुलासा शुक्रवार को किया जाएगा। कार्रवाई शुक्रवार तक चलेगी। सूत्रों से पता चला है कि कुछ कारोबारी टैक्स की राशि सरेंडर करने की तैयारी में हैं। 

 

शहर में ढिंढोरा पीटा, डिफॉल्टर बताया और कर दी कुर्की  : जांजगीर-चांपा में आयकर की टीम ने करीब 40 लाख रुपए का टैक्स नहीं चुकाने पर डिफाल्टर सावित्री मित्तल पति महेंद्र मित्तल का दो मंजिला घर कुर्क कर जब्त कर लिया। बिलासपुर के कर वसूली अधिकारी अनिल बोकाड़े ने बताया कि सावित्री मित्तल ने करीब चार साल पहले अपनी प्रॉपर्टी बेची थी। इसका करीब 28.38 लाख टैक्स कई नोटिस के बाद भी जमा नहीं किया गया। 28.38 लाख का ब्याज करीब 7.66 लाख हो गया। इस तरह अन्य खर्च सहित लगभग 40 लाख रुपए टैक्स के रूप में जमा करना है।

 

कीमत करीब दो करोड़ रुपए : यह मकान नेशनल हाईवे में चांपा नहर पुल के पास है। साढ़े पांच डिसमिल जमीन पर आवासीय व व्यावसायिक भवन बना हुआ है। जानकारों के मुताबिक इसकी कीमत करीब दो करोड़ हैं।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना