छत्तीसगढ़ / रायपुर सहित बस्तर में भारी बारिश, इंद्रावती और शबरी नदी खतरे के निशान से पार, सैकड़ों गांव टापू में तब्दील

Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
X
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises
Chhattisgarh Monsoon Rain Alert [Updates]: Rain in Raipur Today, Chhattisgarh Rain Latest news; River level rises

  • मानसून द्रोणिका और बंगाल की खाड़ी में चक्रवात सक्रिय होने के कारण भारी बारिश का अनुमान
  • सुकमा से ओडिशा सड़क मार्ग संपर्क टूटा, जगदलपुर में स्कूलों में छुटि्टयां घोषित
  • बारिश के चलते कई कॉलोनियों में जल भराव, लोगों के घरों में भरा पानी, विधायक और मेयर सड़क पर निकले

दैनिक भास्कर

Jul 29, 2019, 06:44 PM IST

रायपुर/जगदलपुर. राजधानी रायपुर सहित बस्तर संभाग में मानसून सक्रिय है। बस्तर में जहां दो दिनों से लगातार भारी बारिश हो रही है, वहीं रायपुर में भी रविवार से शुरू हुई रिमझिम बारिश तेज हो गई। यहां 10 घंटे से बारिश का सिलसिला जारी है। बस्तर संभाग में तेज बारिश के चलते इंद्रावती और शबरी नदी खतरे का निशान पार कर गई हैं। कई गांव टापू में तब्दील हो गए हैं। सुकमा से ओडिशा जाने का संपर्क कट गया है। वहीं जगदलपुर में सड़कों व कॉलोनियों में जल भराव होने और घरों में पानी भरने के कारण कलेक्टर ने स्कूलों में छुट्‌टी घोषित कर दी है।

कई जगह मिट्‌टी आने से रास्ता बाधित

बस्तर संभाग में तेज बारिश की वजह से कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। दरअसल जगदलपुर के अब्दुल कलाम वार्ड, सनसिटी, गंगा मुंडा, नयामुंडा, मोती तालाब पारा जैसे कई इलाकों में जल भराव हो गया है। जलभराव की स्थिति को देखते हुए राहत और बचाव का कार्य जारी है। बचाव दल के साथ विधायक रेखचंद जैन और महापौर जतिन जायसवाल भी प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने पहुंचे और बचाव कार्य शुरू करवाया। जेसीबी की मदद से पानी के निकासी के लिए रास्ता बनाया जा रहा है।  

डिमरापाल मेडिकल कॉलेज रास्ते पर जलभराव से लोगों को अस्पताल पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नालियों से गंदा पानी निकलकर लोगों के घरों में जा रहा है। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए प्रशासनिक अमला तैयार है। जलभराव के चलते दंतेवाड़ा मार्ग भी बाधित हो गया है। सड़कों के ऊपर पानी का बहाव है। बहरहाल प्रदेश में 28 जुलाई तक 531.8 मिमी बारिश हो जानी थी, मगर हुई है सिर्फ 424.1 मिमी। 20 फीसद की कमी बनी हुई है, जो बारिश न होने की वजह से लगातार बढ़ती जा रही है।

राजधानी रायपुर में भी हो रही लगातार बारिश के चलते शहर के कई निचले इलाकों में पानी भर गया है। यहां तक कि मुख्य मार्गों पर स्थित दुकानों में भी पानी चला गया है। मौसम विभाग के अनुसार, मानसून द्रोणिका और बंगाल की खाड़ी में चक्रवात सक्रिय होने के कारण भारी बारिश का अनुमान है। बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवात, 30 जुलाई से लेकर दो अगस्त तक सक्रिय रह सकता है। इसके आने वाले दिनों में अपदाब में बदलाव होगा। इससे प्रदेश भर में मध्यम, भारी और अति भारी बारिश हो सकती है। 

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के दौरान प्रदेश के अलग-अलग स्थानों के लिए ऑरेंज और यलो अलर्ट जारी कर दिया है। प्रदेश में रायगढ़, जांजगीर, बलोदाबाज़ार, रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, बालोद, धमतरी और महासमुंद के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं रेड अलर्ट जारी करते हुए मौसम विभाग ने बालोद, धमतरी, गरियाबंद, कांकेर, कोंडागांव , नारायणपुर, बीजापुर, बस्तर और दंतेवाड़ा जिलों में एक - दो स्थानों पर भारी से अति भारी वर्षा होने की संभावना जताई है। 

 

जिला तापमान (डिग्री सेल्सियस में) बारिश (मिमी)
रायपुर 24.8 2.9
बिलासपुर 30.2 20.4
पेंड्रा 29.5 5.2
अंबिकापुर 29.0 3.9
जगदलपुर 24.1 201.8
दुर्ग - 1.2
राजनांदगांव 28.0 5.2

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना