विधानसभा / स्पीकर ने कृषि मंत्री से कहा कितने एनीकट गिरने वाले हैं परीक्षण करा लें

X

  • मंत्री ने पूरे प्रदेश के एनीकटों पर बैठाई जांच 
  • बीज निगम में भी 500 करोड़ की खरीदी पर भी जांच
     

Feb 21, 2019, 06:35 PM IST

रायपुर.विधानसभा में गुरुवार को राज्यभर में घटिया एनीकटों के निर्माण का मुद्दा फिर गरमाया। पक्ष और विपक्ष के विधायकों ने इसे लेकर नाराजगी जताई और सिंचाई मंत्री रवींद्र चौबे से जवाब मांगा। इसपर ने सिंचाई मंत्री को समीक्षा करने के निर्देश दिए। तब मंत्री चौबे ने सभी एनीकटों के परीक्षण करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इसकी शुरुआत जांजगीर जिले से होगी। 
 

एनिकट के नाम का मामला भी उठा

प्रश्नकाल में बपसा की विधायक इंदु बंजारे ने भटती-बोरसी एनीकट को घटिया बताते हुए जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि इसका कोई नाम क्यों नहीं है? स्पीकर ने कहा कि आपके विभाग ने इसका नाम क्यों नहीं दिया क्या यह प्राइवेट एनीकट है? मंत्री ने चीफ इंजीनियर को भेजकर जांच कराने का ऐलान किया।

अजीत जोगी ने प्रदेश में आवारा पशुओं की समस्या का मुद्दा उठाते हुए कहा कि एक गांव से आवारा पशुओं को दूसरे गांव भेजने की समस्या है। जोगी ने हर दो-तीन गांव में आवारा पशुओं को रखने के लिए गौशाला बनाने की मांग की।  कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने जानकारी देते हुए कहा कि सुराजी योजना के तहत आवारा पशु के लिए व्यवस्था की जा रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना