--Advertisement--

छत्तीसगढ़ / कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष उइके ने पार्टी छोड़ी, 18 साल बाद भाजपा में वापसी



भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री रमन सिंह की मौजूदगी में रामदयाल उइके को पार्टी की सदस्यता दिलाई। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री रमन सिंह की मौजूदगी में रामदयाल उइके को पार्टी की सदस्यता दिलाई।
X
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री रमन सिंह की मौजूदगी में रामदयाल उइके को पार्टी की सदस्यता दिलाई।भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री रमन सिंह की मौजूदगी में रामदयाल उइके को पार्टी की सदस्यता दिलाई।

  • मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा- उइके के आने से भाजपा को मजबूती मिलेगी 
  • उधर, पत्रकार रुचिर गर्ग कांग्रेस में हुए शामिल, दिल्ली में राहुल गांधी ने दिलाई सदस्यता

Dainik Bhaskar

Oct 19, 2018, 01:14 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उइके शनिवार को फिर भाजपा में शामिल हो गए। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में 18 साल बाद उनकी पार्टी में वापसी हुई।

1998 में मरवाही सीट से थे भाजपा विधायक

  1. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि यह उइके की घर वापसी है। इससे पार्टी को मजबूती मिलेगी। उइके 1998 में अविभाजित मध्यप्रदेश में मरवाही सीट से भाजपा के विधायक रहे। उन्होंने छत्तीसगढ़ गठन के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री अजीत जोगी के उपचुनाव लड़ने के लिए अपनी सीट छोड़ दी थी और कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

  2. जोगी के करीबी रहे उइके के छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस गठन के समय उससे जुड़ने के कयास लगे थे। इसी साल जनवरी में उन्हे प्रदेश कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया था। भाजपा की सदस्यता लेने के बाद उइके ने कहा कि आदिवासी नेता को मान-सम्मान नहीं मिलेगा तो ऐसे कदम उठाए जाएंगे।

  3. पिछले दिनों राहुल गांधी छत्तीसगढ़ दौरे पर आए थे तो विधायक होने के बाद भी उइके को मंच पर जगह नहीं मिली थी। हाल ही में छत्तीसगढ़ चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस की ओर से बनाई गई सात सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी में उइके का नाम नहीं था। वे इस उपेक्षा से नाराज थे। रामदयाल उइके पाली-तानाखार से मौजूदा विधायक हैं।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..