छत्तीसगढ़ / शहरी बस्तियों में हफ्ते में एक दिन फ्री इलाज करेंगी मोबाइल मेडिकल टीमें

Mobile medical teams will provide free treatment in urban areas once a week
X
Mobile medical teams will provide free treatment in urban areas once a week

दैनिक भास्कर

Sep 17, 2019, 06:15 AM IST

रायपुर | अब शहरी झुग्गी बस्तियों के लोगों को नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण और दवाइयां देने के लिए मोबाइल मेडिकल टीमें बनाई जाएंगी। ये टीमें हफ्ते में एक दिन बस्तियों में जाएंगी और लोगों का परीक्षण कर दवाइयां देंगी। गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को सीएम भूपेश बघेल इसकी शुरुआत करेंगे। 13 नगर निगमों के 1.71 लाख परिवारों को इसका सीधा लाभ मिलेगा। स्वास्थ्य विभाग ने वनांचल और दूरस्थ इलाके के लोगों की जांच के लिए हाट-बाजार मोबाइल मेडिकल टीम बनाई है। हफ्ते में एक दिन हाट-बाजार आने वाले लोगों का उसी जगह इलाज कर दवाइयां दी जाती हैं।  


इसका काफी अच्छा परिणाम सामने अाया है। इसे देखते हुए अब शहरी क्षेत्र में झुग्गी बस्तियों में रहने वाले पौने दो लाख परिवारों के 7.80 लाख से ज्यादा लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए 13 निगमों में यह सुविधा शुरू की जाएगी। सीएम भूपेश बघेल ने कलेक्टरों को इसके लिए सभी तैयारियां करने कहा है। मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के लिए पहले चरण में रायपुर नगर निगम में 3, भिलाई और कोरबा में दो-दो व अन्य नगर निगमों में एक-एक मोबाइल मेडिकल टीम तैयार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इसके लिए सर्व सुविधायुक्त जगह के चयन, आवश्यक साफ-सफाई, बिजली, पानी, फर्नीचर, शौचालय आदि की व्यवस्था करने के साथ ही मोबाइल मेडिकल टीम के गठन और पर्याप्त मात्रा में दवाइयों के भंडारण के निर्देश दिए हैं।


कलेक्टर हाेंगे को-ऑर्डिनेटर : मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के लिए कलेक्टरों को को-ऑर्डिनेटर बनाया गया है। सीएम बघेल ने इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे इसलिए जनप्रतिनिधियों, स्वयं सेवी संस्थाओं और सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों को जोड़ने कहा है। साथ ही, स्लम क्षेत्रों में इस योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार के भी निर्देश दिए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना