छत्तीसगढ़ / रास्ते के लिए सांसद बैस और कांग्रेस नेता पप्पू फरिश्ता के परिवार भिड़े



मौके पर मौजूद पप्पू फरिश्ता और समर्थक। मौके पर मौजूद पप्पू फरिश्ता और समर्थक।
X
मौके पर मौजूद पप्पू फरिश्ता और समर्थक।मौके पर मौजूद पप्पू फरिश्ता और समर्थक।

  • आक्सीजोन का रास्ता जिस प्लाट से, उसी को लेकर अरसे से विवाद
  • पुलिस शिकायत के इंतजार में, दोनों पक्षों में समझौते की कोशिश भी

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 01:10 AM IST

रायपुर . ऑक्सीजोन के रास्ते में आने वाले 15सौ वर्गफीट के एक प्लाट की चाबी के लिए वहीं के निवासी भाजपा सांसद रमेश के और कांग्रेस नेता पप्पू फरिश्ता के परिवार में रविवार रात 8 बजे जमकर विवाद हुआ। बात इतनी बढ़ी कि मामला थाने तक पहुंच गया और झगड़े के दौरान पुलिस बी आ गई।

 

फरिश्ता की बेटी ने आरोप लगाया कि उसके बाद सांसद के बेटे रिंकू ने मारपीट की। उधर, रिंकू ने इस आरोप को सरासर गलत करार दिया और कहा कि फरिश्ता की बेटी और बेटे ने सांसद निवास के गेट पर आकर गालियां दीं और सुरक्षा गार्ड से भी मारपीट की है। विवाद इतना बढ़ गया था कि थोड़ी देर में कालोनी में दोनों के समर्थक पहुंच गए। दो थानों में शिकायत होने की वजह से पुलिस भी आ गई। देर रात तक दोनों पक्षों में समझौते की कोशिश चल रही थी।


मौके पर पहुंची पुलिस को सांसद बंगले पर तैनात सुरक्षाकर्मी नंदकिशोर मिरी ने बताया कि वह गेट पर था, तभी फरिश्ता का बेटा और बेटी आए। दोनों जमीन काे लेकर गाली गलौज करने लगे। सुरक्षाकर्मी का कहना है कि उसने मना किया तो फरिश्ता के बेटे ने मारपीट की तथा उसका गला दबाने की कोशिश करने लगा। तब बंगले में मौजूद लोगों ने बीचबचाव किया। उधर, पप्पू फरिश्ता ने आरोप लगाया कि बेटा राजा फरिश्ता अपनी छोटी बहन के साथ टहलने के लिए निकला था।

 

दोनों आक्सीजोन जा रहे थे। इसका रास्ता विवादित प्लाट से गुजरता है। इस गेट पर ताला लगा हुआ था। तब दोनों ने ताला खोलने के लिए कहा तो सांसद का बेटा रिंकू आ गया और ताला खोलने से मना करते हुए गालियां बकीं। फरिश्ता के मुताबिक सांसद पुत्र ने उनकी बेटी से मारपीट भी की। बेटे ने बीचबचाव किया तो उसे भी पीटा गया। इस बीच किसी ने पुलिस को खबर दे दी। 


सिविल लाइंस टीआई समेत पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मौके पर दोनों पक्षों से बात की है और लिखित शिकायत मांगी है। इस बीच, दोनों पक्षों से काफी लोग मौके पर पहुंच गए। वे देर रात तक कोशिश करते रहे कि इस मामले में समझौता हो जाए। लेकिन देर रात तक समझौता होने या एफआईआर की खबर नहीं है।

 

प्लॉट के लिए अरसे से विवाद : गोलबाजार टीआई याकूब मेमन ने बताया कि ईएससी कॉलोनी में एक खाली प्लाट है, जिसे बांस से घेरा गया है। इस घेरे में गेट है, जो आक्सीजोन जाने का रास्ता है। इसमें ताला लगा रहता है। बताते हैं कि इसी प्लाट को लेकर दोनों पक्षों में अरसे से विवाद चल रहा है। सांसद के परिवार का दावा है कि यह प्लाट उनके स्वामित्व का है। उधर, फरिश्ता का कहना है कि यह सरकारी जमीन है। यहीं से आक्सीजोन तक आने-जाने का रास्ता दिया गया है। लेकिन सांसद परिवार ने इसे घेर लिया और कब्जा करना चाहता है।

 

शिकायत नहीं मिली : टीआई 

 

पुलिस दोनों पक्षों से बात कर रही है। अब तक किसी की लिखित शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने के बाद ही कार्रवाई करेंगे। - यदुमणि सिदार, टीआई सिविल लाइन


 

 


 

COMMENT