--Advertisement--

पड़ताल / इस बार भी पुल के पास ही 50 किलो बारूद से उड़ाई बस



naxal attack investigations
X
naxal attack investigations

  • खाली हाथ ही जवान पहुंचे थे बाजार, हवा में उड़ने के बाद बस जमीन पर गिरी और दोनों चक्के और गियर बाक्स दूर जा गिरे

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 03:23 AM IST

जगदलपुर/नकुलनार/बचेली . आकाशनगर मार्ग पर 6 नंबर घाट के पास नक्सलियों ने गुरूवार को बारूदी धमाके में बस को उड़ा दिया। विधानसभा चुनावों से पहले इस बड़े धमाके की प्लानिंग और इसे अंजाम देने के लिए नक्सलियों को सिर्फ 3 घंटे का समय लगा। 

 

नक्सलियों ने अब तक जितने भी बारूदी विस्फोट अंजाम दिया है, उसे पुल या पुलिये के पास ही दिया है। बचेली में शहर से 8 किमी दूर गुरूवार को भी 6 नंबर के मोड़ के पास घाटी में एक यू मोड़ के पास लोहे की पुलिया के नीचे नक्सलियों पहले से बारूद लगा रखा था। यहां भी विस्फोट लोहे के पुल के पास ही अंजाम दिया गया है।

बताया जा रहा है कि पुल-पुलिये और मोड़ पर अक्सर गाड़ियाें की गति धीमी होती है। ऐसे में नक्सलियों को विस्फोट करने में आसानी होती है और विस्फोट के चूकने का खतरा भी कम रहता है। यहां धमाके को अंजाम देने के लिए करीब 50 किलो बारूद का उपयोग किया गया है। यहां एक तरफ खाई दूसरे तरफ ऊंची टेकरी है।

विस्फोट के लिए नक्सली घटना स्थल से करीब 225 मीटर दूर टेकरी में बैठे थे। दरअसल सीआईएसएफ के जवान गुरूवार सुबह 8 बजे बचेली के बाजार में खरीददारी करने पहुंचे। जवानों के यहां पहुंचते ही नक्सलियों को इसकी भनक लग गई और सुबह 11 बजे जब जवान लौटने लगे, उससे पहले ही नक्सलियों ने बस को उड़ाने की प्लानिंग से लेकर सारे काम पूरे कर लिया। बताया जा रहा है कि खरीददारी कर जवान 11 बजे के बाद जैसे ही मोड़ नंबर छह पर पहुंचे तो नक्सलियों ने ब्लास्ट कर दिया।

इलाके में तैनात पुलिस अफसर दबी जुबान में कह रहे हैं कि जवान बिना हथियार और आरओपी (रोड ओपनिंग पार्टी) के ही बाजार के लिए निकल गए थे।  इधर एसडीओपी धीरेंद्र पटेल ने बताया कि घटना को अंजाम देने के लिए 15 नक्सली मौके पर पहुंचे होंगे। 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..