छत्तीसगढ़ / स्टेशन में पहली बार नया फुट ओवरब्रिज इसमें नहीं होंगी सीढ़ियां



new foot overbridge will not have stairs for the first time in the station
X
new foot overbridge will not have stairs for the first time in the station

  • एफओबी बनेगा 9 करोड़ रु. में, एक तरफ रैंप व दूसरी ओर होंगे एस्केलेटर, टेंडर फाइनल

Dainik Bhaskar

Sep 17, 2019, 06:20 AM IST

रायपुर . देश के अधिकांश बड़े स्टेशनों में फुट ओवरब्रिज (एफओबी) पर जाने के लिए रैंप बने हुए हैं, लेकिन राजधानी के स्टेशन में यह अब तक नहीं है। 20 साल से रैंप वाले एफओबी की चर्चा चल रही है, लेकिन यह अब जाकर फाइनल हुअा है। रेलवे मंडल ने स्टेशन में नया एफओबी मंजूर कर दिया है, जिसमें रैंप और एस्केलेटेर से ही जाया जा सकेगा। 9 करोड़ रुपए में बनने वाले इस एफओबी का टेंडर फाइनल होने के बाद सोमवार को वर्क अार्डर जारी कर दिया गया।

 
रायपुर स्टेशन में रैंप वाले एफओबी की मांग तब से उठ रही है, जब न छत्तीसगढ़ बना था, न रायपुर रेलवे के मंडल में अपग्रेड हुअा था। अब जाकर यह बनने जा रहा है। अफसरों ने बताया कि इस एफओबी से हर प्लेटफार्म पर एक तरफ रैंप और दूसरी ओर एस्केलेटर रहेगा। एफओबी और रैंप की लागत 9 करोड़ रुपए होगी। हर प्लेटफार्म पर एस्केलेटर लगाने के लिए अलग से ढाई करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। रेलवे का अनुमान है कि सालभर में नया एफओबी और रैंप बनकर तैयार हो जाएगा। 


बिलासपुर-दुर्ग में वर्षों से : बिलासपुर और दुर्ग स्टेशनों में वर्षों पहले से रैंप की सुविधा है। लेकिन राजधानी व मंडल का स्टेशन होने के बावजूद रायपुर में रैंप नहीं था। रेल अफसरों का तर्क है कि स्टेशन के हर प्लेटफार्म की चौड़ाई कम है, इसलिए रैंप बनाने को लेकर सालों-साल केवल विचार चलता रहा और प्रोजेक्ट आगे नहीं बढ़ सका। अब यात्री बढ़ रहे हैं, लगेज लाने-ले जाने में उन्हें दिक्कत हो रही है, इसलिए रेल प्रशासन ने इसकी जरूरत महसूस करते हुए प्रोजेक्ट को अागे बढ़ाया। 

 

इसलिए जरूरी है रैंप  : रायपुर स्टेशन में लिफ्ट लगाने के लिए एफओबी के एक तरफ की सीढ़ियों को तोड़ दिया गया। इससे यात्रियों का पूरा दबाव दूसरी सीढ़ी पर है। प्लेटफॉर्म नंबर 2-3 और 5-6 में एक साथ दो ट्रेनों के आने के बाद एफओबी की सीढ़ियों पर ठसाठस भीड़ रहती है। लिफ्ट का उपयोग बुजुर्ग व निशक्त यात्री ही कर सकते हैं। ऐसे में, सीढ़ियां पार करने में कई बार 15-15 मिनट लग जाते हैं। इसीलिए अब स्टेशन में नया एफओबी बनाकर इसे रैंप व एस्केलेटर से जोड़ने की तैयारी है।

 

दुर्ग की ओर बनेंगे रैंप : नया एफओबी फूड प्लाजा से बाजू में बने गार्डन की जगह से शुरू होगा। भास्कर के पास इस एफओबी का ड्राइंग डिजाइन है। इसके मुताबिक एफओबी के सारे रैंप दुर्ग की ओर रहेंगे तथा बिलासपुर की ओर एस्केलेटर लगेंगे। एफओबी और रैंप से स्टेशन के फुटओवरब्रिज और सीढ़ियों पर व्यस्त समय में होने वाली भीड़ से निजात मिलेगी। सभी प्लेटफार्मों को जोड़ने के लिए तीन एस्केलेटर लगाने का प्लान है। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना