पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आधार नंबर में गलती बता किसानों काे चक्कर लगवा रहे अफसर, 7 करोड़ का भुगतान अटका

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बालोद. कुरदी सोसायटी में जारी धान खरीदी का काम चल रहा है।
  • कैसे पूरा होगा लक्ष्य 45 दिन में 28.35 लाख क्विंटल धान खरीदी, 30 दिन में 23.65 लाख क्विं.खरीदना चुनौती

बालोद . जिले में इस बार धान खरीदी की गति धीमी है तो वहीं किसानों की मुसीबत भी कम नहीं हो रही। 52 लाख क्विंटल धान खरीदी का लक्ष्य है। जिसे 15 फरवरी तक पूरा करना है। लेकिन आलम यह है कि इन 45 दिन यानी डेढ़ महीने के भीतर 28 लाख 35 हजार क्विंटल ही धान खरीदी हो पाई। अब 30 दिन में 23 लाख 65 हजार क्विंटल धान की खरीदी करनी है। इसमें भी 11 दिन छुट्टी में गुजर जाएंगे।सोसायटी व किसानों के पास 19 दिन का ही समय है। रोज नए-नए नियमों के कारण किसान धान नहीं बेच पा रहे हैं तो उस पर सोसायटी में जाम की स्थिति के कारण खरीदी भी प्रभावित हो रही है।

कई किसानों को 15 दिन से 1 महीने बाद भी धान बेचने पर पैसा नहीं मिल पाया। ऐसे किसानों को अफसर आधार नंबर या खाता में त्रुटि होने की बात कहकर चक्कर लगवा रहे हैं। ओरमा के किसान पवन कुमार का कहना है कि उसने 11 दिसंबर को बालोद के औराभांठा सोसायटी में 10 क्विंटल 40 किलो धान बेचा है। जिसकी राशि 19084 रुपए होती है। लेकिन आज एक महीने बाद भी उनका पैसा नहीं आया, जबकि आधार नंबर सही है।

सोसायटी में 7 से 10 दिन बाद का टोकन मिल रहा
जिले में अब तक किसानों से 511 करोड़ 70 लाख रुपए का धान खरीदा जा चुका है। लेकिन बदले में 504 करोड़ 39 लाख का ही भुगतान हो पाया है। यानी 7 करोड़ रुपए अभी बाकी है। यह पैसा कब तक आएगा, बैंक प्रबंधन भी नहीं बता पा रहे हैं। इधर धान बेचने में किसानों को देरी हो रही है। सोसायटी में उन्हें 7 से 10 दिन बाद का टोकन मिल रहा है। 

47% किसानों का धान बिका, बचे 1 महीने में पूरी खरीदी चुनौती
कांकेर जिले में एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू हो गई है। लेकिन इन डेढ़ महीनों में सरकार मात्र 47 प्रतिशत किसानों का ही धान शासन खरीद पाई है। धान खरीदी 15 फरवरी तक चलेगी और अब मात्र एक 
महीने बाकी हैं। इतने कम दिनों में शेष 53 प्रतिशत किसानों का धान खरीदी कर पाना शासन-प्रशासन के लिए चुनौती है। खरीदी केंद्रों से धान का उठाव बेहद धीमी गति से हो रहा है। उठाव में तेजी नहीं आई तो कुछ केंद्रों में खरीदी प्रभावित हो सकती है। 1 दिसंबर से धान खरीदी शुरू हुई जो 15 फरवरी तक चलेगी। जिले में कुल 75,359 पंजीकृत किसान हैं। खरीदी शुरू होने के बाद से अब तक डेढ़ महीने में मात्र 35,308 यानी 47 प्रतिशत किसानों का ही धान बिक पाया है। अब खरीदी को मात्र एक महीने बचे हैं तथा अभी की स्थिति में 40051 यानी 53 प्रतिशत किसानों का धान खरीदी होना शेष है। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें