अंतागढ़ टेपकांड / मंतूराम के सामने फिरोज और अमीन को बिठाकर पूछताछ की तैयारी

Preparation for interrogation of Feroze and Amin in front of Manturam
X
Preparation for interrogation of Feroze and Amin in front of Manturam

  •  जेल में बंद फिरोज को रिमांडa पर लेगी एसआईटी 

दैनिक भास्कर

Sep 09, 2019, 01:53 AM IST

रायपुर | एसआईटी मंतूराम पवार के सामने फिरोज और अमीन को बिठाकर पूछताछ की तैयारी कर रही है। एसआईटी द्वारा उठाए जा रहे इस कदम के पीछे कारण है शनिवार को मंतूराम द्वारा कोर्ट में दिया गया बयान। अंतागढ़ उपचुनाव 2014 में मैदीन से हटने वाले पवार ने कोर्ट में कहा था कि चुनाव को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह, अजीत जोगी, अमित और पूर्व मंत्री राजेश मूणत के बीच 7.5 करोड़ रुपए की डील हुई थी।

 

इसके बारे में उसे अमीन और फिरोज ने बताया था। अब आगे की जांच के लिए ब्लैकमेलिंग के केस में जेल में बंद फिरोज सिद्दीकी को रिमांड पर लिया जाएगा। वैसे तो अंतागढ़ टेपकांड के संबंध में फिरोज और अमीन से पहले भी पूछताछ हा़े चुकी, तब दोनों से ज्यादा जानकारी नहीं मिली थी। लेकिन अब पवार के बयान के बाद एसआईटी को जानकारी मिलने की उम्मीद है। तीनों से अलग-अलग भी पूछताछ होगी। चर्चा है कि कांग्रेस नेता अमीन और मंतूराम को सरकारी गवाह बनाया जा सकता है।

 

षड्यंत्रकारियों को राजनेता कहना ठीक नहीं
 

अंतागढ़ चुनाव धांधली के बारे में हमारे आरोप सही साबित हुए, लोकतंत्र की हत्या का षडयंत्र हमारी आशंका से ज्यादा गहरा निकला। मैं इसे राजनीति मानने से इनकार करता हूं और षडयंत्रकारियों को राजनेता कहना ठीक नहीं समझता। शर्मनाक! कानून अपना काम करेगा।’’-भूपेश बघेल, सीएम

 

मंतूराम ने मामले को झूठा बताते हुए बिलासपुर हाईकोर्ट में अंतागढ़ टेपकांड को खारिज करने की शपथ पत्र के साथ अर्जी दी थी। इसलिए मंतूराम द्वारा हाईकोर्ट में दिया बयान और शपथ पत्र विश्वसनीय हैं। मजिस्ट्रेट के सामने दबाव में बयान दिया गया। मंतूराम ने ऐसा कर खुद को धारा 194 का आरोपी सिद्ध कर दिया है। -अशोक शर्मा, प्रवक्ता, जोगी कांग्रेस

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना