छत्तीसगढ़  / रायपुर में मौसम बदला: सुबह से धुंध के बाद अब तेज बारिश; दिल्ली से आ रही फ्लाइट नागपुर डायवर्ट

X

  • पश्चिमी विक्षोभ से बदला मिजाज, प्रदेश के कई जिलों में दो दिन और बारिश की संभावना 
  • सुकमा में खराब मौसम के चलते नक्सली इलाकों में तीन दिन से फंसा है मतदान दल

दैनिक भास्कर

Feb 06, 2020, 12:35 PM IST

रायपुर. राजधानी रायपुर समेत छत्तीसगढ़ के कई जिलों में एक बार फिर मौसम के बदले मिजाज ने ठंड बढ़ा दी है। इसके चलते हवाई सेवाएं भी प्रभावित हैं। गुरुवार सुबह से भी छाई धुंध और कोहरे के कारण विजिबिलिटी काफी कम हो गई। वहीं, तेज बारिश ने माैसम को और बिगाड़ दिया है। विजिबिलिटी कम होने से दिल्ली से रायपुर आने वाली एयर इंडिया की फ्लाइट को नागपुर डायवर्ट किया गया है। दूसरी ओर सुकमा में भी खराब मौसम के चलते तीन दिन से मतदान दल फंसा हुआ है। 

सुबह 8.12 बजे फ्लाइट डायवर्ट की गई

एयर इंडिया की फ्लाइट ने सुबह दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान भरी थी। हालांकि, घने कोहरे और धुंध के कारण उसे स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर उतरने की अनुमति नहीं मिली। इसके बाद 8.12 बजे उसे नागपुर के लिए डायवर्ट कर दिया गया। रायपुर एयरपोर्ट के निदेशक राकेश रंजन सहाय ने बताया कि  सुबह 9 बजे तक विजिबिलिटी 1,200 मीटर हो गई। जिसके बाद उड़ान संचालन शुरू हो गया है। इससे पहले सुबह सिर्फ 200 मीटर ही थी। 

राजधानी रायपुर समेत प्रदेश के कई जिलों में दो दिन से बारिश जारी है। कहीं रुक-रुककर तो कहीं जमकर पानी बरसा है। रायपुर में मंगलवार देर रात को थोड़ी-थोड़ी देर के लिए दो-तीन बार तेज बारिश हुई। इसके बाद बुधवार सुबह रायपुर में घना व दिनभर हल्का कोहरा छाया रहा। गुरुवार को भी सुबह से धुंध और कोहरे की चादर शहर में लिपटी रही। इसके बाद हल्की बूंदाबांदी शुरू हुई और फिर 10 बजे तक बारिश तेज हो गई। बलरामपुर जिले व आसपास के क्षेत्रों में ओले गिरने की भी संभावना है। 

सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित इलाके में पंचायत चुनाव संपन्न करवाने गए मतदान दल के कर्मचारियों की अब तक वापसी नहीं हुई है। तीसरे चरण का चुनाव संपन्न हुए गुरुवार को तीन दिन बीत चुके हैं। मतदान संपन्न होने के बाद अचानक मौसम में बदलाव हो गया है। खराब मौसम के चलते हेलीकॉप्टर को उड़ान भरने में दिक्कत आ रही है, जिसके चलते मतदान दलों की वापसी नहीं हो पाई है। फिलहाल, मतदान दल के कर्मचारियों को जगरगुंडा, चिंतलनार और किस्टाराम के कैंपों में सुरक्षित रखा गया है।

मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक बीपी चंद्रा ने बताया कि शुक्रवार तक बारिश के आसार हैं। नया पश्चिम विक्षोभ का असर दो दिन तक रहने की संभावना है। जम्मू-कश्मीर में एक पश्चिम विक्षोभ व पूर्वी विदर्भ तक द्रोणिका बनी हुई है। ये सिस्टम गुरुवार को खत्म हो रहा है, लेकिन एक नया सिस्टम अफगानिस्तान से पाकिस्तान तक बन गया है। वहीं रायपुर में घने कोहरे की वजह से गुरुवार सुबह तक 7 उड़ानों को अलग-अलग शहरों में डायवर्ट करना पड़ा। सुबह आने वाली इंडिगो एयरलाइंस की दिल्ली फ्लाइट को भुवनेश्वर, इंदौर उड़ान को भोपाल, विस्तारा एयरलाइंस की दिल्ली फ्लाइट को भुवनेश्वर, इंडिगो की हैदराबाद फ्लाइट को नागपुर, दिल्ली उड़ान को नागपुर और बेंगलुरू उड़ान को भुवनेश्वर डायवर्ट करना पड़ा। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना