छत्तीसगढ़ / मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और गृहमंत्री साहू बने कांवड़िया, कांधे पर कांवड़ लेकर निकले यात्रा पर

X

  • राजधानी की समता कॉलोनी से खारुन नदी स्थित महादेव मंदिर तक निकली यात्रा 
  • यात्रा में हजारों कांवड़ियों के साथ शिव-पार्वती की झांकियां भी, नंदी वेश में पहुंचे कलाकार

दैनिक भास्कर

Aug 12, 2019, 05:03 PM IST

रायपुर. सावन के अंतिम सोमवार को राजधानी रायपुर सहित छत्तीसगढ़ शिवमय हो गया। प्रदेश में अलग-अलग शिव स्थलों पर जहां सुबह से ही जलाभिषेक और पूजा-अर्चना जारी है। वहीं राजधानी रायपुर की सड़कें बोल बम और हर हर महादेव के जयकारों से गूंजायमान हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू के साथ अन्य विधायक और सांसद भी कांवड़िये बनकर यात्रा पर निकले। यह यात्रा खारून नदी के तट पर स्थित महादेव मंदिर तक पहुंची। कांवड़ियों ने महादेव को जल अर्पित किया और पूजा की। 

मुख्यमंत्री की ओर से विधायक विकास उपाध्याय ने किया पूजन

समता कॉलोनी के भीमसेन भवन में पहले पूजा अर्चना की गई। इसके बाद कंधों पर कांवड़ लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री बघेल नजर आए। बोल बम के नारों के साथ निकली कावड़ यात्रा में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, विधायक कुलदीप जुनेजा, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, महापौर प्रमोद दुबे और राज्यसभा सांसद छाया वर्मा भी शामिल हुईं । ये सभी खास चेहरे आम कांवड़यों के साथ भगवान शिव के जयकारे लगाते आगे बढ़ते रहे । इस कांवड़ यात्रा का आयोजन रायपुर पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय ने किया था। 

शहर के प्रमुख चौक चौराहों से होती हुई यह यात्रा महादेव घाट जाकर समाप्त हुई। इस दौरान भगवान शिव के तांडव और झूमते नंदी की झांकी ने सभी का ध्यान खींचा। एक रथ को सजाया गया था, जिसपर कुछ कलाकार भगवान शिव और माता पार्वती बनकर सवार थे। सावन का आखिरी सोमवार होने के कारण पूजन के लिए आधी रात से ही कांवड़िये जुटना शुरू हो गए थे। महादेव घाट में भगवान हाटकेश्वर नाथ के मंदिर में सभी कांवड़ियों ने जल चढ़ाया। मुख्यमंत्री बघेल, गृहमंत्री साहू की ओर से विधायक विकास उपाध्याय ने शिवलिंग पर जल चढ़ाया और पूजा की।

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना