छत्तीसगढ़  / तालाब में कूदा सफाईकर्मी बोला - पहले नौकरी दो तब आऊंगा बाहर



X

  • 2 हजार कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन, नियमितीकरण और पद को पूर्णकालिक किए जाने की रखी मांग 

  • छत्तीसगढ़ अंशकालीन सफाई कर्मचारी कल्याण संघ के आंदोलन में प्रदेशभर से आए कर्मचारी

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2019, 09:29 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में करीब 2 हजार की तादाद में सफाईकर्मी जुटे। ये सभी सरकारी स्कूलों में सफाई का काम करते हैं। यह सभी बूढ़ापारा इलाके में बने धरना स्थल पर जमा हुए। इस बीच रामनारायण मारकंडे नाम के सफाईकर्मी ने धरना स्थल स्थित बूढ़ातालाब में छलांग लगा दी। काफी देर तक वह पानी में ही गोते लगाता रहा। उसका कहना था कि जबतक कर्मचारियों की मांगे पूरी नहीं की जाती वह बाहर नहीं आएगा। इसके बाद अपने साथियों समझाने पर वह पानी से बाहर आया। रामनारायण ने बताया कि काम के एवज में कम पैसे मिलते हैं उसे परिवार को पालने में दिक्कत होती है।  

 

कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन जिला प्रशासन के अधिकारियों को सौंपा। सफाईकर्मियों की तरफ से मांग की गई है कि उन्हें स्कूलों में सफाई के काम में वेतन बेहद कम मिलता है, इसे बढ़ाया जाए। उन्हें अंशकालीन कर्मी माना गया है। जबकि स्कूलों में पूरे दिन उनसे काम लिया जाता है। ज्यादातर स्कूलों में सफाई कर्मी भृत्य का काम भी करते हैं। कर्मचारियों की मांग है कि इन्हें नियमित करते हुए पूर्णकालिक कर्मचारी बनाया जाए। अब कर्मचारी 15 तारीख का इंतजार करेंगे मांगे नहीं पूरे होने की सूरत में उग्र आंदोलन की चेतवनी इन्होंने सरकार को दी। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना