छत्तीसगढ़ / आरपीएफ के रायपुर-दुर्ग सहित 30 जगहों पर छापे, एक करोड़ के रेलवे टिकट जब्त



Rpf raids in 30 places including Raipur-Durg, seized railway tickets of 1 crore
X
Rpf raids in 30 places including Raipur-Durg, seized railway tickets of 1 crore

  • आरपीएफ ने ऑपरेशन थंडर चलाया, 35 दलाल गिरफ्तार
  • दलालों के रेलवे कनेक्शन की भी जांच की जा रही

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 08:01 AM IST

रायपुर. रेलवे सुरक्षा बलों के दस्ते ने ऑपरेशन थंडर चलाकर रायपुर-बिलासपुर सहित जोन के 30 से ज्यादा शहरों और कस्बों में छापा मारकर 1 करोड़ रुपए से ज्यादा के रेल टिकट जब्त किए। 35 दलालों को पकड़ा गया। पहली बार इतनी बड़ी संख्या में टिकट के साथ दलालों के पकड़े जाने से पूरे अमले में हड़कंप है। दलालों के रेलवे कनेक्शन की भी जांच की जा रही है।

 

अफसरों को शक है कि रेलवे कनेक्शन की मदद से ही दलाल टिकटों की कालाबाजारी का इतना बड़ा रैकेट ऑपरेट कर रहे थे। सुरक्षा दस्ते ने न सिर्फ दलालों के ऑफिस बल्कि उनके घरों में भी रेड की। रायपुर मंडल में 11 टिकट दलाल पकड़े गए। इन टिकट दलालों के पास से 411 ई-टिकट व काउंटर टिकट जब्त किया गया। इसकी कीमत 8 लाख 18 हजार है।

 

रायपुर में 8 टीमों ने एक साथ छापेमार कार्रवाई की। दलालों की मौजूदगी की पक्की सूचना के बाद गोलबाजार के एक होटल में छापा मारा गया। वहां मैनेजर टमित केसरवानी अपने होटल के कंप्यूटर से अवैध टिकट बनाकर ग्राहकों को मनमानी रकम में बेच रहा था। भिलाई में एक घर में घुसकर सुरक्षा बलों ने टिकट दलाल को दबोचा।

 

मंडल आयुक्त अनुराग मीणा ने भास्कर से बातचीत करते हुए बताया कि रायपुर मंडल सहित देशभर में एक साथ इतनी बड़ी कार्रवाई पहली बार हुई है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब आरपीएफ की टीम घर के साथ ही होटल के कमरों में घुसकर दलालों को रंगे हाथ पकड़ा। इससे पहले केवल साइबर कैफे व टूर-ट्रैवल वालों के यहां छापा मारा जाता था। 


जाेनभर में 35 दलाल पकड़ाए

बिलासपुर जोन में इस कार्रवाई के दौरान 35 टिकट दलालों को पकड़ा गया है और उनके पास से एक करोड़ रुपए की टिकटें जब्त किए जाने का दावा किया जा रहा है। बुधवार को रेलवे महानिदेशक अरूण कुमार के निर्देश पर देशभर में टिकट दलालों पर छापेमार कार्रवाई की गई। टिकट दलालों के इस धड़पकड़ अभियान को ऑपरेशन थंडर नाम दिया गया। टिकट दलाली के नए ट्रेंड व सिस्टम का खुलासा भास्कर में किया गया था। उसी के बाद सुरक्षा बलों ने अपने जासूसों को जांच के लिए लगाया। 


दुकान बंद कर भागे एजेंट

सुबह 9 बजे से ही छापेमार कार्रवाई शुरू कर दी गई। रायपुर के साथ ही दुर्ग-भिलाई में धड़पकड़ हुई। रेलवे सुरक्षा बलों द्वारा रेड मारने की सूचना आग की तरह फैली और दोपहर से पहले ही कई टिकट एजेंट दुकानें बंद करके भाग गए। रायपुर सहित पूरे अंचल में अफरा-तफरी का माहौल पूरे दिन रहा। रायपुर पोस्ट प्रभारी दीवाकर मिश्रा और सेटलमेंट पोस्ट प्रभारी भोलानाथ सिंह के साथ ही सीआईबी की टीमों ने शहर में चल रहे कैफे पर नजर रखते हुए छापेमार कार्रवाई की।

COMMENT