छत्तीसगढ़ / स्मार्ट कार्ड बंद होगा, अब बनेंगे आईडी कार्ड सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा फ्री इलाज



Smart card will be closed, now ID card will be free hospitality
X
Smart card will be closed, now ID card will be free hospitality

  • थाइलैंड का मॉडल होगा छत्तीसगढ़ में लागू, घोषणा बजट सत्र में

Dainik Bhaskar

Feb 04, 2019, 04:27 AM IST

कौशल स्वर्णबेर, रायपुर . भूपेश सरकार स्मार्ट कार्ड से फ्री इलाज वाली मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना बंद करने जा रही है। लोगों के लिए सरकार अब आईडी कार्ड से फ्री इलाज वाली योजना लाने जा रही है, जो सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा। इसकी घोषणा आने वाले बजट में होगी। प्रदेश में अब यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू होगी, कांग्रेस घोषणा पत्र में भी इसका उल्लेख है।

 

थाईलैंड में इस तरह की योजना 2002 से सफलता पूर्वक संचालित हो रही है। इसके अध्ययन के लिए हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव थाईलैंड गए भी थे। इससे पहले राज्य सरकार ने आयुष्मान योजना बंद करने की घोषणा की थी। बतौर सिंहदेव जितने दिन यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू होने में लगेंगे, उतने ही दिन आयुष्मान योजना चलेगी। स्वास्थ्य विभाग को कार्ययोजना बनाने के निर्देश दे दिए गए हैं। 7 जनवरी को नई स्कीम की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक रखी गई है।


स्मार्ट कार्ड इसलिए बंद होंगे : प्रदेश में करीब 56 लाख स्मार्ट कार्ड धारक हैं। इस योजना के तहत लगभग 1197 सरकारी/निजी अस्पताल पंजीकृत हैं। सरकार सालाना लगभग 300 करोड़ रुपए इस पर खर्च करती थी। भूपेश सरकार के आने के बाद से स्मार्ट कार्ड से उपचार लगभग बंद है। स्मार्ट कार्ड के पैसों के भुगतान को लेकर कई गड़बड़ियां सामने आ चुकी हैं। सरकार को लगता है कि थोड़ा बजट आैर बढ़ाकर सरकारी अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाकर लोगों को सही दर पर बेहतर इलाज दिलाया जा सकता है। साथ ही इससे इलाज में होने वाले भ्रष्टाचार पर भी रोक लगेगी।

 

यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू करेंगे 


 

प्रदेश में यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू करने जा रहे हैं। जरूरी संसाधन जुटाकर मरीजों का सरकारी अस्पतालों में ही इलाज कराएंगे। स्मार्ट कार्ड से कई निजी अस्पताल फल-फूल रहे हैं, इससे उनपर निर्भरता लगभग खत्म हो जाएगी। -टीएस सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना