छत्तीसगढ़ / सोनिया गांधी ने जिस जमीन का शिलान्यास किया, उसे आईआईएम को दे िदया, पूर्व सीईओ बजाज निलंिबत



Sonia Gandhi laid the ground for the foundation, gave it to IIM
X
Sonia Gandhi laid the ground for the foundation, gave it to IIM

  • भूपेश कैबिनेट का बड़ा फैसला  नया रायपुर में जगह बदलने की फाइल 16 साल बाद खुली
     

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 04:08 AM IST

रायपुर . 2003 में सोनिया गांधी द्वारा पौंता चेरिया में रखे गए नया रायपुर के फाउंडेशन स्टोन वाले इलाके को आईआईएम को आवंटित करने के पिछले सरकार के फैसले की निंदा करते हुए भूपेश कैबिनेट ने बड़ा फैसला किया। इसके लिए जिम्मेदार सीनियर आईएफएस अफसर एसएस बजाज को कैबिनेट ने निलंबित कर दिया है। बजाज एनआरडीए के सीईओ के रूप में यह जमीन आवंटित की थी। कैबिनेट का कहना था कि पूरा नया रायपुर 7 हजार 500 हेक्टेयर का प्लान है। 
आईआईएम को कहीं भी जमीन दे सकते थे, लेकिन उक्त अफसर ने बदनीयती से इसे आवंटित कर दिया। इसके लिए प्राइमरी रूप से अफसर को जिम्मेदार माना गया है।

 

इससे पहले सीएम भूपेश बघेल और चार मंत्रियों ने पौंता चेरिया के इलाके का निरीक्षण किया था और शिलान्यास पत्थर की दुर्दशा को लेकर गहरी नाराजगी जताई थी। इसके बाद यह मुद्दा कैबिनेट में आया। कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बताया कि राज्य सरकार ने सौर सुजला योजना के तहत इस साल 20 हजार सोलर पंप लगाने का प्रावधान किया था। इसमें से इस साल सुराजी गोठान में 4 हजार सोलर पंप लगाए जाएंगे। इसमें 5 प्रतिशत हितग्राही अनुदान गोठान चलाने वाली समिति, एनजीओ या स्व सहायता समूह को देना होगा। इस पर इस साल करीब 477 करोड़ रुपए खर्च होंगे। कैबिनेट ने छत्तीसगढ़ वरिष्ठ मीडियाकर्मी सम्मान निधि में संशोधन किया है।  यह सम्मान निधि पहले 5 वर्ष तक देने का प्रावधान था। इसे अब जीवन पर्यंत दिया जाएगा। 

 

इसके लिए अर्हता पहले 20 साल की पत्रकारिता और 65 साल की आयु सीमा थी, जिसे घटाकर 60 साल कर दिया गया है। सम्मान निधि की राशि को भी 5 हजार से बढ़ाकर 10 हजार कर दिया गया। इस निधि का लाभ इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकारों को भी मिलेगा। पहले आवेदन करना होता था, लेकिन अब अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार सम्मान निधि के पात्र होंगे। कैबिनेट ने विधायकों की मांग पर सभी को एक लिपिक और एक कम्प्यूटर या डाटा एंट्री ऑपरेटर देने का फैसला लिया है। स्वेच्छानुदान के लिए 1.72 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। 

 

ये भी हुए फैसले
 

  •  खेल प्राधिकरण का गठन, सीएम होंगे अध्यक्ष
  •  डायवर्सन के लिए सीधे नगर निवेश में आवेदन
  •  सरगुजा, बस्तर, कोरबा व बिलासपुर के लिए कर्मचारी चयन बोर्ड बनेगा 
  •  कस्टम मिलिंग से बचे धान और गन्ने के शीरा से बनाएंगे एथेनाल

भाजपा सरकार में जमीन की बंदरबांट हुई: भूपेश


नवा रायपुर में सीएम-मंत्री बंगलों और सिविल लाइंस के लिए प्रस्तावित जगह के निरीक्षण के बाद सीएम भूपेश ने मीडिया से बातचीत में पूर्व सीएम रमन सिंह पर तीखे अारोप लगाए। बघेल ने कहा कि नवा रायपुर में रमन सिंह ने संसाधनों को लुटवाने का काम किया है। पौंता चेरिया में हुए शिलान्यास की जमीन आईआईएम को दे दी। जमीन की बंदरबांट के कई और मामले इसी तरह के हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना